नक्सलियों को गो’ला-बा’रूद करता था सप्लाई, एएसआई और हेड कॉन्स्टेबल गिरफ्तार

सुकमा. छत्तीसगढ़ के सुकमा में पुलिस ने नक्सलियों को गो’ला-बा’रूद सप्लाई करने वाले थानेदार आनंद जाटव और हेडकांस्टेबल सुभाष सिंह को गिरफ्तार किया है। इसके अलावा 4 अन्य लोग भी पकड़े गए, जिनके पास से SIT ने विभिन्न हथियारों के लगभग 1000 से ज्यादा कार’तूस बरामद किए हैं।

बताया जा रहा है कि पुलिस ने दोनों को 4 जून को ही गिरफ्तार कर लिया था। हालांकि पुलिस से जुड़ा हुआ मामला होने के कारण खुलासा नहीं किया। पकड़े गए हेड कांस्टेबल और एएसआई ने दो बार कारतूस बेचे जाने की बात कबूल की है।SIT के मुताबिक इन दोनों के संबंध प्रतापपुर एरिया कमेटी के नक्सली लीडर पेद्दा से रहे हैं।

जानकारी के अनुसार, पुलिस ने गुरुवार तड़के करीब 4 बजे मलकानिगरी चौक से चार लोगों को गिरफ्तार किया था। इसमें धमतरी निवासी मनोज शर्मा व गुंडरदेही निवासी हरीशंकर गेडाम भी शामिल हैं। पुलिस ने इनके पास से 695 का’रतूस बरामद किए थे। बताया जा रहा है कि कोतवाली में पदस्थ एएसआई आनंद जाटव के पास से ही पुलिस को कारतू’स से भरा बैग भी मिला था। वह नक्सलियों की सप्लाई चेन में शामिल अन्य लोगों के संपर्क में था।

मनोज शर्मा व हरीशंकर स्कॉर्पियो वाहन से सुकमा पहुंचे थे। जैसे ही एएसआई बाइक से मलकानगिरी चौक पहुंचा, तभी सबको पकड़ लिया गया। तीनों को पकड़े जाने के बाद पुलिस ने हेड कांस्टेबल को भी इंदिरा कॉलोनी स्थित उसके घर से गिरफ्तार कर लिया।

बता दें कि साल 2013 के बाद 2018 में भी नक्सल ऑपरेशन से जुड़े आधा दर्जन से ज्यादा जवानों को नक्सलियों को कारतूस बेचने के मामले में पकड़ा गया था। बदनामी से बचाने के लिए अफसरों ने जवानों को विभागीय कार्रवाई कर छोड़ दिया। इस मामले में भी कुछ और पुलिसकर्मियों के नाम आ रहे हैं।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE