देश से गद्दारी करने वाला ‘सुमित कुमार’ BSF से बर्खास्‍त, पाक के लिए करता था जासूसी

पाकिस्तान के लिए जासूसी करने के आरोप में गिरफ्तार किए गए जम्मू संभाग में बीएसएफ कांस्टेबल सुमित कुमार को बर्खास्‍त कर दिया गया है।

सुमित कुमार पंजाब के गुरदासपुर जिले का रहने वाला है। वह जम्मू कश्मीर के सांबा सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर तैनात था। पंजाब पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि, पहले से गिरफ्तार एक ड्रग तस्कर ने बीएसएफ के इस जवान के बारे में सुराग दिया था। जो बीएसएफ की 173 बटालियन में सांबा की मंगू चक सीमा चौकी पर तैनाती था।

गिरफ्तारी के दौरान उसके पास से एक पिस्टल, 80 कारतूस और 3 मोबाइल बरामद हुए थे। 13 जुलाई को सुमित के पास से 32 लाख रुपये की नकदी भी बरामद की गई थी। इस राशि को उसने हथियारों और नशा तस्करों ने अपनी मदद के एवज में दिया था।

गिरफ्तारी के बाद जवान को निलंबित कर दिया गया था। इसके बाद कोर्ट ऑफ इनक्वायरी के आदेश दिए गए। जांच में पाया गया कि आरोपी पाकिस्तान में बैठे तस्करों के संपर्क में था। वह हथियारों और नशे की तस्करी में शामिल था। जुलाई महीने में आरोपी ने तस्करी की थी।

बीएसएफ जम्मू फ्रंटियर के आइजी एनएस जम्वाल ने सुमित को नौकरी से निकाले जाने की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि इस मामले में सेना के एक जवान समेत आठ लोगों को गिरफ्तार किया गया है। जांच जारी है। कुछ और भी पर्दाफाश होंगे।

 सुमित के खिलाफ जालंधर ग्रामीण के पुलिस स्टेशन करतारपुर में आइपीसी की धारा 302, 506, 34, 120 बी, 212, 216, आ‌र्म्स एक्ट की सेक्शन 24/25/59 व सेक्शन 29/61/85 के तहत मामला दर्ज हुआ। बीएसएफ के आईजी एनएस जमवाल का कहना है कि पंजाब पुलिस मामले की जांच कर रही है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE