ब्लू स्टार की बरसी पर स्वर्ण मंदिर में लगे खालिस्तान के समर्थन में नारे, पुलिस से हुई झड़प

अमृतसर: ‘ऑपरेशन ब्लू स्टार’ की 36वी बरसी पर शनिवार को स्वर्ण मंदिर परिसर में खालिस्तान के समर्थन में नारे लगाए गए। इस दौरान खालिस्तानी समर्थकों व पुलिस के बीच बहस के बाद हाथापाई भी हुई।

शिरोमणि अकाली दल (अमृतसर) प्रमुख एवं पूर्व सांसद सिमरनजीत सिंह मान के बेटे ईमान सिंह मान के नेतृत्व में करीब 100 कार्यकर्ताओं ने अकाल तख्त में नारे लगाए। अकाल तख्त के ‘समानांतर’ जत्थेदार ध्यान सिंह मंड ने मान नीत समूह के साथ परिसर में प्रवेश किया और भीड़ को संबोधित किया।

सिख कट्टरपंथी संगठन दमदमी टकसाल के सदस्यों ने अकाल तख्त जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह और शिरोमणि गुरूद्वारा प्रबंधक समिति (एसजीपीसी) के अधिकारियों के साथ उन लोगों के परिवारों को सम्मानित किया, जो ऑपरेशन ब्लू स्टार के दौरान मारे गए थे।

बता दें कि कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन के बीच स्वर्ण मंदिर को बंद रखा गया है और लोगों का प्रवेश वर्जित है। केंद्र सरकार के आदेश के मुताबिक धार्मिक स्थल 8 जून 2020 से खुलने की अनुमित है। हालांकि हर साल इस दिन यहां सामान्य रूप से एक लाख से अधिक लोग मत्था टेकने आते हैं।

पुलिस ने श्री हरमंदिर साहिब की तरफ जाने वाले सभी रास्तों को सील कर दिया। श्री हरमंदिर साहिब जाने वाले मुख्य रास्ते विरासती मार्ग पर कर्फ्यू जैसी स्थिति थी।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE