16 साल गोद लिए हिंदू बेटे की परवरिश की, मुस्लिम पिता ने अब सर पर बांधा सेहरा

उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में एक मुस्लिम शख्स ने 16 साल अपने गोद लिए हिंदू बेटे की उसके धर्म के अनुसार परवरिश की और जब वह जवान हो गया तो हिन्दू मान्यताओं का ख्याल रखते हुए उसकी शादी भी कराई।

जानकारी के अनुसार, गाजीपुर के मोहम्मद शेर खान ने 16 साल पहले पप्पू को गोद लिया था। दरअसल,  पप्पू के बचपन में ही सिर से मां-बाप का साया उठ गया था। उसकी देखभाल करने वाला भी कोई नहीं था। ऐसे में मोहम्मद शेर खां ने उसकी परवरिश का जिम्मा उठाया। जिसमे परिवार वालों ने भी साथ दिया। परिवार ने न केवल पप्पू की जरूरतों को पूरा किया बल्कि बेहतर तालीम भी दिलवाई।

गांव के रहने वाले ही बहादुर राम ने पप्पू का रिश्ता करवाया, वह शेर खान की नेकी व हिंदू बेटे के बारे में जानते थे जिसके चलते उतरौली गांव के भगवान राम के घर रिश्ते की बात छेड़ी और इस तरह उनकी बेटी कश्मीरा से पप्पू की शादी तय हो गई।

शेर खान ने  पूरे हिंदू रीति-रिवाज के साथ सोमवार 22 मार्च को पप्पू की शादी कराई। बाकायदा बैंड बाजे के साथ बारात लड़की वालों के घर पहुंची, जिसमें शेर खान की पत्नी और स्थानीय लोगों ने भी शिरकत की। शादी से पहले  मोहम्मद शेर खान ने गोद लिए बेटे के लिए एक कमरा भी तैयार करवाया है, जहां उसका परिवार रहेगा।

ये सांप्रदायिक सौहार्द की मिसाल उन लोगों के मुंह पर करारा तमा’चा है। जो धर्म के नाम पर समाज को विभाजित करना चाहते है। ऐसे लोगों को शेरखान से सबक हासिल करना चाहिए।