अमीश देवगन ने किया खेद जताने का ढोंग, मारहरा शरीफ से भेजा गया लीगल नोटिस

सुल्तान ए हिन्द हजरत ख्वाजा ए गरीब नवाज को लुटेरा और आक्रांता कहकर अपमानित करने वाला न्यूज़ 18 का एंकर अमीश देवगन देश भर में सैकड़ों एफ़आईआर के बाद अब डेमेज कंट्रोल में जुट गया। अमीश देवगन ने आज न्यूज़ 18 पर आकर माफी का ढोंग किया।

अमीश देवगन ने अपनी बयान को एक भुलवश गलती करार देते हुए खेद जताया और कहा अपने बयान में कहा कि उसका इरादा ख्वाजा साहब के अपमान का कोई इरादा नहीं था। इसलिए इसे भूल के तहत लिया जाना चाहिए। और मैं इस सबंध में ट्वीट भी कर चुका हूँ। ख्वाजा साहब में मेरी भी आस्था है। और मैं अजमेर जाता हूँ। अगर फिर भी किसी की आस्था को ठेस पहुंची है तो खेद व्यक्त करता हूँ।

वहीं न्यूज़ 18 की और से कहा गया कि Amish Devgan ने सोमवार को हिन्दू पुजारियों के संगठन की तरफ से 1991 के Place of Worship Special Provision Act यानी पूजा स्थल अधिनियम के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में दायर याचिका पर एक डिबेट की थी। इस दौरान एक पैनलिस्ट ने हज़रत ख़्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती का ज़िक्र किया। जिस पर हुई गर्मागर्म बहस और अमिश देवगण को कहना कुछ था और वो कुछ और कह बैठे। इसी मुद्दे पर Amish Devgan ने ख्वाजा Moinuddin Chishti पर बयान को लेकर जताया खेद, कहा, “मैं भी ख्वाजा में आस्था रखता हूँ”.

दूसरी तरफ मारहरा शरीफ ने न्यूज़ 18 और अमीश देवगन को लीगल नोटिस भेजा है। इसके अलावा देश भर में सैकड़ों एफ़आईआर दर्ज की जा चुकी है। एफ़आईआर का सिलसिला अब भी जारी है। उलेमाओं ने भी साफ कर दिया कि वह ख्वाजा साहब की शान में गुस्ताखी बर्दाश्त नहीं करने वाले है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE