रिया चक्रवर्ती पर बिहार डीजीपी का विवादित बयान, चौतरफा हो रही आलोचना

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के मामले में बिहार डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने रिया चक्रवर्ती पर विवादित बयान की है। उन्होने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री पर टिप्पणी करने की औकात रिया चक्रवर्ती की नहीं है। उनके इस बयान की चौतरफा आलोचना हो रही है।

दरअसल, बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के मामले में सीबीआई की जांच का फैसला सुना दिया। कोर्ट के फैसले पर डीजीपी ने ख़ुशी जताते हुए कहा कि बिहार पुलिस ने जो भी किया, वो सही था और क़ानून के दायरे में था।

उन्होने कहा,’मैं बहुत खुश हूं। आज अन्याय के खिलाफ न्याय की जीत हुई है। यह सत्य की जीत है, 130 करोड़ देशवासियों की जीत है।”  उन्होंने आगे कहा कि ”माननीय सु्प्रीम कोर्ट का फैसला सर्वमान्य होगा। आज तक मैंने सुना था कि न्यायाधीश भगवान का रूप होते हैं, आज मैंने देख लिया। मैं न्यायाधीश को सैल्यूट नहीं बल्कि इस फैसले के लिए साष्टांग प्रणाम करता हूं।”

इस दौरान पत्रकारों ने गुप्तेश्वर पांडे से रिया चक्रवर्ती के उस बयान के बारे में पूछा था, जिसमें रिया ने बिहार पुलिस की जाँच में राजनीति की बात की थी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का भी ज़िक्र किया। जिस पर उन्होने कहा, रिया चक्रवर्ती की औकात नहीं है बिहार के मुख्यमंत्री पर टिप्पणी करने की। उन्होंने आगे कहा कि पटना पुलिस जो कर रही थी वो बिल्कुल कानूनी तरीके से, संवैधानिक तरीके से, सही काम कर रही थी।

डीजीपी ने आगे कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री ने जो सपोर्ट किया, आज सुशांत को अगर न्याय मिलने की उम्मीद जगी है, इस मुकाम तक लड़ाई पहुंची है वह बिहार के मुख्यमंत्री के सपोर्ट के कारण है। उन्होने ये भी कहा कि “बिहार पुलिस को मुंबई पुलिस ने जिस तरह से क्वारंटीन किया वह गलत था। देशवासियों के मन में इस फैसले से सर्वोच्च न्यायालय ने लोकतंत्र के प्रति आस्था मजबूत की है।”


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE