सचिन पायलट को फिलहाल राहत – स्पीकर की कार्रवाई लगी रोक, सोमवार को भी होगी HC में सुनवाई

राजस्थान में जारी सियासी संग्राम अब अदालत की दहलीज पर जा पहुंचा है। हालांकि फिलहाल यहाँ से भी कोई फैसला नहीं हुआ है। इतना जरुर है कि सचिन पायलट को फोरी राहत मिल गई है। कोर्ट ने अगली सुनवाई तक स्पीकर की कार्रवाई रोक लगा दी है।

दरअसल, कोर्ट ने विधानसभा स्पीकर को मंगलवार शाम तक नोटिस पर कोई कार्रवाई नहीं करने की बात कही है। इसी के साथ कोर्ट ने मामले पर सुनवाई सोमवार यानी 20 जुलाई, सुबह 10 तक के लिए टाल दी है। यानि मंगलवार शाम पांच बजे तक अब स्पीकर बागी विधायकों पर कोई कार्रवाई नहीं कर सकते हैं।

सुनवाई के दौरान पायलट खेमे की ओर से हरीश साल्वे (Harish Salve) ने अपनी दलीलें रखीं। उन्होंने कहा कि पायलट गुट ने दल-बदल कानून का उल्लंघन नहीं किया है। ऐसे में स्पीकर को नोटिस देने का अधिकार नहीं है। साल्वे के बाद मुकुल रोहतगी ने भी पक्ष रखा।

हाईकोर्ट में सचिन पायलट गुट की पैरवी के बाद स्पीकर की ओर से दलील देते हुए वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने याचिका को तत्काल खारिज करने की अपील की। सिंघवी ने पायलट गुट की याचिका को प्रीमेच्योर बताते हुए मांग की कि इसको खारिज कर दिया जाए।

विधानसभा अध्यक्ष की तरफ से पेश हुए अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि स्पीकर का नोटिस देना सही है। पार्टी लाइन के खिलाफ बयान दिया इसलिए नोटिस जारी किया गया। विधायकों ने व्हिप का उल्लंघन किया है। राजस्थान हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश इंद्रजीत महंती और न्यायमूर्ति प्रकाश गुप्ता की पीठ सचिन पायलट और कांग्रेस के 18अन्य विधायकों की याचिकाओं पर सुनवाई कर रही है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE