शर्मनाक: मजदूर दंपति को टॉयलेट में किया क्वारेंटाइन, वहीं पर परोसा भोजन

मध्यप्रदेश में एक मजदूर दंपती को स्कूल के टॉयलेट में क्वारेंटाइन करने के मामला सामने आया है। जिसके चलते प्रदेश की सियासत गरमा गई है। कांग्रेस ने सीधे इसके लिए शिवराज सरकार और बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया को निशाने पर लिया है।

एमपी कांग्रेस की तरफ से ट्वीट कर लिखा गया है कि ‘शौचालय में भोजन करने को मजबूर,—सिंधिया के लोकसभा क्षेत्र की तस्वीर: बीजेपी नेता सिंधिया के लोकसभा क्षेत्र गुना की ये तस्वीर है जिसमें गरीब परिवार को शौचालय में क्वारन्टाइन किया गया है। वो जो बात-बात पर सड़क पर उतरते थे, इस बात पर जनता की नज़रों से उतर गये।’

जानकारी के अनुसार, प्रदेश के गुना जिले के राघोगढ़ की टोडरा ग्राम पंचायत में मजदूर पति-पत्नी को स्कूल परिसर में बने टॉयलेट ही क्वारेंटाइन किया गय।  मजदूर दंपती को खाना भी वहीं परोसा गया। जैसे ही फोटो सोशल मीडिया पर वायरस हुई। जिला प्रशासन ने आनन-फानन में दंपति को वहां से निकाल कर स्कूल के भवन में शिफ्ट कर दिया।

घटना के बाद जनपद सीईओ राघौगढ़ ने कहा है कि इस मामले की जांच के आदेश जारी कर दिए है। साथ ही दोषी व्यक्तियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उधर कलेक्टर ने कहा है कि जांच में सामने आया है कि मजदूर बीती रात को स्कू ल में क्वारटीन कि या गया था। वह शराब पीकर शौचालय में पहुंच गया था, उसके बाद उसकी पत्नी ने भोजन परोसकर खिला दिया।

‘आज तक’ की रिपोर्ट के मुताबिक पति-पत्नी अपने दो बेटों के साथ शुक्रवार की शाम को अपने गांव देवीपुरा लौटे थे। ग्रामीणों ने पूरे परिवार से कहा कि जब तक उनका कोरोना वायरस टेस्ट नहीं हो जाता तब तक उन्हें प्राइमरी स्कूल में ही समय बिताना होगा।

बताया जा रहा है कि अगले ही दिन यानी रविवार 3 अप्रैल को जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की टीम यहां निरीक्षण के लिए आई थी और उन्होंने ही यह तस्वीर खींची थी। यह तस्वीर स्वास्थ्य विभाग के उच्च अधिकारियों को भेजी गई थी।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE