मुस्लिम डॉक्टरों ने पेश की मिसाल – प्लाज्मा देकर कोरोना संक्रमित लोगों की बचा रहे जान

देश में कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच इंदौर कोरोना का हॉट स्पॉट बन चुका है। ऐसे में अब इस महामारी के 3 गंभीर मरीजों पर प्लाज्मा थैरेपी का महत्वाकांक्षी प्रयोग शुरू किया गया है। इन मरीजों को प्लाज्मा दान के लिये वे दो डॉक्टर आगे आये हैं जो इलाज के बाद इस महामारी को मात दे चुके हैं।

श्री अरबिंदो इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (SAIMS) के छाती रोग विभाग के प्रमुख डॉ. रवि डोसी ने सोमवार को बताया, “हमारे अस्पताल में कोविड-19 के तीन गंभीर मरीजों पर प्लाज्मा थैरेपी का प्रयोग शुरू किया गया है। इन मरीजों की उम्र 30 से 60 वर्ष के बीच है, जिनमें एक महिला शामिल है।”

प्लाज्मा डोनर के रूप में सामने आए दोनों डॉक्टर इंदौर के हैं। यह सभी संक्रमण को मात देने के बाद क्वारेंटाइन पीरियड पूरा कर चुके हैं। जिन मरीजों को प्लाज्मा चढ़ाया जाना है, उनके ब्लड ग्रुप से मिलान कर डॉक्टर इकबाल कुरैशी, डॉक्टर इजहार मोहम्मद मुंशी का प्लाज्मा लिया गया है। दोनों ने वायरस के संक्रमण से पूरी तरह ठीक होने के 14 दिन बाद शहर के अरबिंदो अस्पताल में 500-500 एमएल प्लाज्मा डोनेट किया।

इनका प्लाज्मा आईडीए के इंजीनियर कपिल भल्ला, प्रियल जैन और अनीश जैन को चढ़ाया गया है। अरबिंदो अस्पताल के डॉ सतीश जोशी और डॉ रवि डोसी ने प्लाज्मा चढ़ाया। उन्होंने बताया कि प्लाज्मा चढ़ाने से पहले डोनर और मरीज के ब्लड ग्रुप का मिलान किया गया।

डॉक्टर मुंशी ने बताया, “जब मुझे प्लाज्मा दान के लिए कहा गया, तो मैंने फौरन हां कर दी। मेरे मन में एक ही नारा गूंज रहा है-कोरोना हारेगा, भारत जीतेगा।” मुंशी ने कहा, “मैंने सैम्स से ऐसे 60 लोगों की सूची ली है, जो इलाज के बाद कोरोना वायरस संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं। मैं ऐसे लोगों से प्लाज्मा दान करने का अनुरोध करूंगा।”

प्लाज्मा दान करने वाले एक अन्य डॉक्टर इकबाल नबी कुरैशी (39) यकृत रोग विशेषज्ञ हैं। कुरैशी ने कहा, “मैंने कोविड-19 से लड़ाई में अपने स्तर पर छोटी-सी भूमिका निभायी है।” कोरोना वायरस को मात देने वाले 39 वर्षीय डॉक्टर ने कहा, “लोगों को इस महामारी को लेकर खौफजदा होने की जरूरत नहीं है। उचित इलाज के बाद इसके ज्यादातर मरीज ठीक हो जाते हैं। हालांकि, यह तेजी से फैलने वाली बीमारी है। लिहाजा इससे बचाव के लिए पूरी सावधानी बरती जानी चाहिए।”


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE