Home राष्ट्रिय गूगल इंजीनियर की हत्या मामले में पुलिस ने 32 लोगों को गिरफ्तार...

गूगल इंजीनियर की हत्या मामले में पुलिस ने 32 लोगों को गिरफ्तार किया

640
SHARE

कर्नाटक के बीदर ज़िले के मुरकी में बच्चा चोरी की अफ़वाह के चलते भीड़ द्वारा पीट-पीटकर मारे गए सॉफ्टवेयर इंजीनियर मोहम्मद आजम की हत्या के मामले में पुलिस ने 32 लोगों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार किए गए आरोपियों में व्हट्सऐप ग्रुप का एडिमिनिस्ट्रेटर भी शामिल है। साथ ही वीडियो में दिखाई पड़ रहे कुछ लोगों को भी गिरफ्तार किया गया है। बता दें कि शुक्रवार को 2000 लोगों की भीड़ ने आजम समेत तीन युवकों पर हमला किया था। भीड़ के हमले में गूगल के इंजीनियर आजम की मौत हो गई। आजम का एक दोस्त और कतर का एक नागरिक भी बुरी तरह जख्मी हुआ है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

बिदर के डीसीपी वीएन पाटिल के मुताबिक, “उनमें से एक कतर से चॉकलेट लाया था, उसने स्नेह के चलते बच्चों को चॉकलेट पेश की।” लेकिन इसी दौरान एक बच्चा रोने लगा। बच्चे के रोते ही आस पास मौजूद लोग जमा हो गए। सोशल मीडिया पर फैली बच्चों के अपहरण की खबरों को सच मानते हुए लोगों ने तीनों युवकों को पीटना शुरू कर दिया। तीनों युवक कई किलोमीटर दूर तक भागे लेकिन पीछा करने वाली भीड़ बढ़ती गई. व्हट्सऐप पर लोगों ने पास के गांव वालों को युवकों के भागने की खबर दी। इसके बाद ग्रामीणों ने तीनों युवकों को गाड़ी से बाहर खिंचा और पत्थरों व लाठी डंडों से पीटा। पुलिसकर्मियों ने तीनों युवकों को बचाने की कोशिश भी लेकिन भीड़ उन्हें भी पीटने लगी।

आजम की हत्या के बाद से ही परिवार का बुरा हाल है। आजम के पिता मोहम्मद ओस्मान ने कहा कि मेरे 32 साल के बेटे को वाट्सएप पर अफवाह के चलते मार डाला गया। उन्होंने कहा कि, ‘उन लोगों ने गांव वालों को अपना पहचान पत्र भी दिखाया था, लेकिन उन्होंने एक नहीं सुनी’। मोहम्मद ओस्मान ने कहा कि, ‘मेरा बेटा एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर था और भीड़ ने एक अफवाह पर विश्वास कर उसको मार डाला। मैं सरकार से अपील करता हूं कि घटना में शामिल लोगों को सख्त से सख्त सजा दे’।

वहीं मोहम्मद आजम की मां ने गुस्से में कहा कि पुलिस उनके बेटे की सुरक्षा करने में नाकामयाब रही। वह कहती हैं कि, ‘क्या मेरे बेटे ने भारत-पाकिस्तान का बॉर्डर पार कर लिया था? पुलिस ने आंसू गैस का इस्तेमाल भी नहीं किया और कोई चेतावनी भी नहीं दी’

Loading...