पीएम मोदी ने दी उर्स-ए-गरीब नवाज की मुबारकबाद, नक़वी के हाथों भेजी चादर

अजमेर. ख्वाजा गरीब नवाज के 808वें उर्स का गुरुवार को बुलंद दरवाजे पर झंडा चढ़ने की रस्म के साथ अनौपचारिक आगाज हो चुका है। गुरुवार को असर की नमाज के बाद कड़े सुरक्षा बंदोबस्त के बीच धूमधाम से हजारों जायरीन सहित खादिमों की मौजूदगी में चढ़ाया गया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अजमेर की ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह के लिए आज चादर शरीफ भेजी है। प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट कर बताया, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अजमेर शरीफ दरगाह में चादरपोशी के लिए एक चादर सौंपी।’ यह दूसरा मौका है जब मोदी ने ख्वाजा साहब के उर्स में पेश की जाने वाली चादर को दिल्ली बुलाकर अपने हाथों से दी हो।

अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने बताया, ‘प्रधानमंत्री जी ने ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती के 808वें उर्स के मौके पर दरगाह पर चादरपोशी के लिए हमें चादर सौंपी हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से छठी बार अजमेर में ख्वाजा साहब के दरगाह पर चादरपोशी की जाएगी।’ उन्होंने बताया, ‘वह 25 फरवरी को चादरपोशी के लिए जाएंगे।’

नकवी ने बताया कि प्रधानमंत्री से इस अवसर पर एक शिष्टमंडल ने मुलाकात की और आधे घंटे की यह मुलाकात खुशनुमा और अनौपचारिक माहौल में हुई। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री ने देश की खुशहाली की कामना करते हुए एक संदेश भी दिया है। दरगाह ख्वाजा साहब अजमेर के सज्जादा नशीन सैय्यद नसीरूद्दीन चिश्ती ने कहा कि प्रधानमंत्री ने ख्वाजा साहब की दरगाह पर चादरपोशी के लिए चादर सौंपी है और इसके साथ एक संदेश भी दिया।

इस मौके पर अंजुमन सैयदज़ादगान के सदर सैयद मोईन हुसैन सरकार ने प्रधानमंत्री की दस्तारबंदी की, तो दरगाह दीवान के उत्तराधिकारी सैयद नसीरुद्दीन चिश्ती ने शॉल ओढ़ाया और खादिम अफशान चिश्ती ने गुलदस्ता भेंट किया। इस मौके पर दरगाह कमेटी सदर अमीन पठान ने प्रधानमंत्री को अजमेर आने की दावत पेश की।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE