राहुल और तेजस्वी पर पीएम मोदी का तंज – ‘‘डबल-डबल युवराज’’ का बिहार का होगा यूपी जैसा हाल

चंपारण: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी और राजद नेता तेजस्वी यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि आज बिहार में एक तरफ ‘‘डबल इंजन’’ की सरकार है, तो दूसरी तरफ ‘‘डबल-डबल युवराज’’ हैं। उन्होंने कहा कि कुछ साल पहले उत्तर प्रदेश चुनाव में जो हाल ‘‘डबल-डबल युवराज’’ का हुआ था, वही हाल बिहार में भी खासतौर पर ‘‘जंगलराज के युवराज’’ का होगा।

मोदी ने ‘‘डबल-डबल युवराज’’ कह कर उत्तर प्रदेश (विधानसभा) चुनाव (2017) के दौरान गठबंधन सहयोगी रहे राहुल गांधी और सपा प्रमुख अखिलेश यादव की ओर इशारा किया। वहीं, बिहार में ‘‘डबल-डबल युवराज’’ के माध्यम से उन्होंने तेजस्वी और राहुल पर निशाना साधा। उन्होंने रैली में आए लोगों से पूछा, ‘‘ क्या नीतीश कुमार जी का कोई परिवार वाला सरकार में है किसी पद पर है? क्या मोदी का कोई परिवार वाला संसद में या कहीं है? क्या नीतीश कुमार का कोई भाई राज्यसभा पहुंचा ? क्या नीतीश कुमार की कोई बेटी, बेटा कहीं पहुंचा है क्या ?’’

उन्होंने लोगों से पूछा कि सिर्फ और सिर्फ अपने-अपने परिवार के लिए काम कर रही इन पारिवारिक पार्टियों ने आपको क्या दिया? बड़े-बड़े बंगले बने, तो किसके बने? महल बने, तो किसके बने? उन्होंने कहा, ‘‘ इन पारिवारिक पार्टियों के घरों में बड़ी-बड़ी करोड़ों की गाड़ियां आईं, गाड़ियों का काफिला बना, लेकिन आपके बच्चों की चिंता क्या ये करेंगे ?’’

राजद, कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि इन्हें सिर्फ अपने और अपने परिवार की चिंता है, यही सच्चाई है और यही इनका इतिहास है। मोदी ने कहा, ‘‘आप याद करिए, जंगलराज में स्थिति तो यह थी कि जो उद्योग, जो चीनी मिलें, दशकों से चंपारण और बिहार का अहम हिस्सा रही थी, वो भी बंद हो गईं।’’

उन्होंने लोगों से ‘जंगलराज के युवराज’ से सवधान रहने की अपील की और आरोप लगाया कि जंगलराज वालों को सिर्फ अपनी बेनामी सम्पत्ति छिपाने की चिंता है।

उन्होंने लोगों को सचेत करते हुए कहा, ‘‘ अब तो इस चुनाव में जंगलराज वालों के साथ नक्सलवाद के समर्थक, देश के टुकड़े-टुकड़े करने की चाहत रखने वालों के समर्थक भी शामिल हो गए हैं। इन्हें जरा भी मौका मिल गया तो राज्य में फिर अपराध, अराजकता का दौर आ जायेगा।’’

राजद सहित विपक्षी महागठबंधन पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि जंगलराज के युवराज बिहार में उचित माहौल का विश्वास दे सकते हैं क्या? और क्या वह राज्य में निवेश का माहौल बना सकते हैं?

प्रधानमंत्री ने राजद की पूर्ववर्ती सरकार के दौरान कानून व्यवस्था की खराब स्थिति का जिक्र करते हुए कहा कि आज के नौजवान को खुद से पूछना चाहिए कि बड़ी-बड़ी परियोजनाएं जो बिहार के लिए इतनी जरूरी थीं, वो बरसों तक क्यों अटकीं रहीं?

मोदी ने कहा कि पुल बनाने के लिए कौन काम करेगा, जब इंजीनियर सुरक्षित नहीं हों? कौन सड़क बनाएगा, जब ठेकेदार की जान चौबीसों घंटे खतरे में हो? उन्होंने कहा कि किसी कंपनी को अगर कोई काम मिलता भी था, तो वह यहां काम शुरू करने से पहले सौ बार सोचती थी।

उन्होंने कहा, ‘‘ये जंगलराज के दिनों की सच्चाई है। इसे याद रखना चाहिए। ’’ उन्होंने लालू-राबड़ी की सरकार के दौरान की कानून व्यवस्था का जिक्र करते हुए युवाओं को याद दिलाया, ‘‘ बचपन के दिनों में आपकी मां, आपको कहा करती थी कि ‘लकड़सुंघा’ आ जाएगा। असल में आपकी मां को चिंता थी कि अगर उनके बच्चे बाहर निकले तो अपहरण हो जाएगा।’’  (भाषा)


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE