Home राष्ट्रिय लोग भीड़ के हाथों मारे जा रहे, ऐसा लगता है किसी को...

लोग भीड़ के हाथों मारे जा रहे, ऐसा लगता है किसी को कोई चिंता ही नहीं: सुप्रीम कोर्ट

4793
SHARE

देश में भीड़ के हाथों हो रही मौतों को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि ऐसा लगता है किसी को इस बारें में कोई चिंता ही नहीं है।

न्यायमूर्ति मदन बी लोकुर और यू यू ललित की पीठ ने कहा, ‘इन दिनों सोशल मीडिया पर कई तरह की सामग्री आ रही हैं। लोगों को मारा जा रहा है और किसी को इसकी फिक्र नहीं है।’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इससे पहले 17 जुलाई को प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली एक अन्य पीठ ने कहा था कि भीड़तंत्र द्वारा भयानक कृत्यों  को देश के कानून को कुचलने नहीं दिया जा सकता।

सुनवाई के दौरान गूगल, याहू इंडिया प्राइवेट लि., माइक्रोसॉफ्ट कॉरपोरेशन इंडिया प्राइवेट लि., फेसबुक आयरलैंड लि. और व्हाट्सएप की ओर से पेश वकील ने पीठ को बताया कि इस मामले की प्रगति रिपोर्ट दाखिल कर दी गई है। उन्होंने कहा कि इस मामले में केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों का पालन नहीं किया है।

बता दें कि कोर्ट 2015 में तत्कालीन चीफ जस्टिस एचएल दत्तू को हैदराबाद के एक एनजीओ प्रज्वला से एक पत्र और एक पेन ड्राइव में मिले दो रेप के वीडियो पर सुनवाई कर रहा है।

Loading...