पाकिस्तान ने गिरफ्तार किए गए भारतीय उच्चायोग के दोनों अधिकारी को छोड़ा

इस्लामाबाद में सोमवार को गिरफ्तार किए गए भारतीय उच्चायोग के दोनों अधिकारी को छोड़ दिया गया है। ये अफसर सुबह से लापता था, शाम को इनके हिट एंड रन मामले में गिरफ्तारी की खबरें आई थीं। हालांकि अब पाकिस्तान की तरफ से दोनों अधिकारियों को भारत को सौंप दिया गया है।

पाकिस्तान में भारतीय उच्चायोग के दो अधिकारियों के लापता होने की खबर आने के बाद उच्चायोग के अधिकारियों ने विदेश मंत्रालय से संपर्क किया। विदेश मंत्रालय ने इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायोग के साथ काम करने वाले दो लापता भारतीय अधिकारियों के मामले को उठाया। इसके बाद शाम को पाकिस्तान ने कहा कि एक युवक के एक्सीडेंट के मामले में दोनों अधिकारियों की गिरफ्तारी की गई है।

भारत का कहना है कि इस्लामाबाद में भारतीय कर्मियों की सुरक्षा की जिम्मेदारी सीधे तौर पर पाकिस्तानी अधिकारियों की है। भारत की तरफ से पाकिस्तान को दोनों भारतीय अधिकारियों को आधिकारिक कार के साथ तत्काल इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायोग पहुंचाने को कहा गया है।

कुछ दिन पहले आईएसआई एजेंट्स ने भारतीय राजनयिक गौरव अहलूवालिया की कार का पीछा किया था। इसका वीडियो भी सामने आया था। अहलूवालिया के घर के सामने भी आईएसआई के कुछ एजेंट तैनात किए गए थे। भारत ने इसके खिलाफ पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय से विरोध भी दर्ज कराया था।

भारत विदेश मंत्रालय ने इस बारे में पाकिस्तान को डिप्लोमैटिक नोट भी दिया था। इसमें कहा गया था कि मार्च से अब तक भारतीय राजनयिकों को परेशान या पीछा करने की 13 घटनाएं सामने आ चुकी हैं। भारत ने चेतावनी दी थी कि पाकिस्तान में यह सिलसिला फौरन रुकना चाहिए।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE