Home राष्ट्रिय बरेली डीएम के बाद सहारनपुर की महिला अफ़सर की फ़ेसबुक पोस्ट वायरल...

बरेली डीएम के बाद सहारनपुर की महिला अफ़सर की फ़ेसबुक पोस्ट वायरल लिखा, चंदन गुप्ता को ‘भगवे’ ने मारा

174
SHARE

सहारनपुर । गणतंत्र दिवस को कासगंज में हुई सांप्रदायिक हिंसा में चंदन गुप्ता व्यक्ति की मौत हो गयी। हालाँकि अब कासगंज में स्थिति शांतिपूर्ण है लेकिन सियासी बयानबाज़ी अभी भी जारी है। इसी बयानबाज़ी में अब प्रदेश के अधिकारी भी शामिल हो गये है। पहले बरेली के ज़िलाधिकारी की एक फ़ेसबुक पोस्ट ने तूफ़ान ला दिया और अब सहारनपर की अधिकारी ने फ़ेस्बुक पोस्ट लिख नया बखेड़ा खड़ा कर दिया।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

सहारनपुर की डिप्टी डायरेक्टर (सांख्यिकी ) रश्मि वरुण ने कासगंज हिंसा में मारे गए चंदन गुप्ता की मौत के लिए ‘भगवा’ को ज़िम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा कि तिरंगा यात्रा में तिरंगा ग़ायब और भगवा शीर्ष पर था। इसी भगवे ने चंदन की जान ले ली। रश्मि वरुण से पहले बरेली के डीएम ने तिरंगा यात्रा पर सवाल उठाते हुए लिखा था की मुस्लिम मोहल्ले में जाकर पाकिस्तान ज़िंदाबाद के नारे क्यों लगाए जा रहे है?

रश्मि वरुण ने अपनी फ़ेस्बुक पोस्ट में लिखा,’ तो ये थी कासगंज की तिरंगा रैली.. कोई नई बात नहीं है ये, अंबेडकर जयंती पर सहारनपुर सड़क दूधली में भी ऐसी ही रैली निकाली गई थी, उसमें से अंबेडकर गायब थे या कहिए कि भगवा रंग में विलीन हो गये थे.. कासगंज में भी यही हुआ… तिरंगा गायब और भगवा शीर्ष पर जो लड़का मारा गया, उसे किसी दूसरे, तीसरे समुदाय ने नहीं मारा उसे केसरी, सफेद और हरे रंग की आड़ लेकर भगवा ने खुद मारा।’

रश्मि आगे लिखती है,’ जो नहीं बताया जा रहा है वो ये कि अब्दुल हमीद की मूर्ति या तस्वीर पे तिरंगा फहराने की बजाय इस तथाकथित तिरंगा रैली में चलने की जबरदस्ती की गई और केसरिया, सफेद, हरे और भगवा रंग पे लाल रंग भारी पड़ गया…।’ बताते चले की वीएचपी और एबीवीपी ने गणतंत्र दिवस के दिन कासगंज में तिरंगा यात्रा निकाली थी। जिसके बाद हुई साम्प्रदायिक हिंसा में चंदन गुप्ता की मौत हो गयी थी।

Loading...