Home राष्ट्रिय योगी सरकार में मंत्री सूर्यप्रताप शाही के ख़िलाफ़ जारी हुआ ग़ैर ज़मानती...

योगी सरकार में मंत्री सूर्यप्रताप शाही के ख़िलाफ़ जारी हुआ ग़ैर ज़मानती वारंट, सम्पत्ति कुर्क करने के आदेश

69
SHARE

 

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

लखनऊ । उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में कृषि मंत्री, सूर्य प्रताप शाही के ख़िलाफ़ अदालत ने ग़ैर ज़मानती वारंट जारी किया है। इसके अलावा उनकी सम्पत्ति को कुर्क करने और 19 फ़रवरी तक उन्हें अदालत के समक्ष हाज़िर करने का भी आदेश दिया गया है। अदालत ने यह आदेश तब जारी किया जब सूर्य प्रताप ,अपने ऊपर चल रहे एक मुक़दमे में एक बार भी अदालत में पेश नही हुए।

कुशीनगर की एक स्थानीय अदालत के अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट चंद्र मोहन चतुर्वेदी ने सूर्य प्रताप शाही के ख़िलाफ़ एक मुक़दमे में ग़ैर ज़मानती वारंट जारी किए। दरअसल 1994 में सरकारी संग्रह अमीन चन्द्रिका सिंह की तरफ से शाही के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था। उन्होंने शाही पर सरकारी कार्य में बाधा पहुँचे और आपराधिक नियत से बल प्रयोग करने का आरोप लगाया था।

इस मामले की सुनवाई 2004 में शुरू हुई थी। तभी शाही ने अदालत से ज़मानत ले ली। इसके बाद वह  2004 से 2007 तक लगातार अदालत में पेश हुए। लेकिन 2007 के बाद वह अदालत में एक बार भी पेशी के लिए नही गए। इसी मामले में अदालत ने ज़िला पुलिस को उनकी सम्पत्ति कुर्क करने का आदेश दिया। इसके अलावा कसया थाना अध्यक्ष को उन्हें 19 फ़रवरी तक अदालत में हाज़िर करने का भी आदेश दिया।

सुनवाई के दौरान एसीजेएम ने कहा की मंत्री का गैर-हाजिर रहना गंभीर अपराध है और इसके बाद उन्होंने शाही के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी कर दिया। इस आदेश की तामील के लिए कसया एसएचओ को नोटिस देकर उन्‍हें इस संबंध में अदालत को सूचना देने को कहा गया है। मालूम हो कि शाही इस समय पड़ोसी जिले देवरिया की पथरदेवा सीट से विधायक हैं। वह योगी सरकार में कृषि मंत्री के पद पर भी आसीन है।

Loading...