कोरोना संकट के बीच मोदी सरकार ने कुंभ मेला के लिए दिए 375 करोड़ रुपए

कोरोना महामारी के बीच केंद्र की मोदी सरकार ने उत्तराखंड के हरिद्वार में अगले साल होने  वाले कुंभ मेला के लिए 375 करोड़ रुपए का बजट जारी कर दिया है। बजट स्वीकृत शहरी विकास विभाग को मिल गई है।

राज्य सरकार ने केंद्र से अगले साल प्रस्तावित हरिद्वार कुंभ मेला के लिए एक हजार करोड़ रुपए का बजट मांगा था, लेकिन आखिरकार केंद्र ने इसके लिए अब 375 करोड़ रुपये जारी कर दिए हैं। इस बजट से मेला के सड़क, पुल, घाट निर्माण के स्थायी कार्य होंगे। हालांकि राज्य सरकार पहले ही केंद्र से बजट मिलने की उम्मीद में 380 करोड़ रुपए खर्च कर चुकी है।

इधर, राज्य सरकार ने भी इस वित्तीय वर्ष के बजट में 1200 करोड़ रुपए का प्रावधान कुंभ के लिए रखा है। कुंभ मेला शुरू होने में अब मुश्किल से सात महीने का ही समय बचा हुआ है। लॉकडाउन के चलते प्रभावित काम फिर प्रारंभ कर दिए गए हैं। शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक के मुताबिक कुंभ के सभी कार्य तय समय से पूरे किए जाने के प्रयास चल रहे हैं।

सिंचाई विभाग के दो निलंबित अभियंता कि‍ए गए बहाल

हरिद्वार में कुंभ मेला से संबंधित कार्यों में अनियमितता के आरोप में निलंबित किए गए तीन अभियंताओं में से जांच के उपरांत दो को बहाल कर दिया गया है। इनमें अधीक्षण अभियंता शरद श्रीवास्तव और अधिशासी अभियंता पुरुषोत्तम शामिल हैं। इस संबंध में शासन ने आदेश भी जारी कर दिए हैं।

बताया गया कि तीसरे निलंबित अधीक्षण अभियंता प्रेम सिंह पंवार की ओर से आरोपों के संबंध में दिए गए स्पष्टीकरण का परीक्षण चल रहा है और जल्द ही उनके संबंध में भी निर्णय लिया जाएगा।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE