शुरुआती जांच के बाद दिल्ली पुलिस का दावा – मौलाना साद के AUDIO के साथ की गई छेड़छाड़

निजामुद्दीन मरकज के मुखिया मौलाना साद कंधालवी एक ऑडियो क्लिप वायरल हुआ था। जिसमे तब्लीगी जमात के लोगों को कथित तौर पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने को लेकर कहा जा रहा था। हालांकि अब जांच में सामने आया है कि इस AUDIO क्लिप के साथ छेड़छाड़ की गई थी।

जनसत्ता की रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस जांच में पता चला है कि ‘शायद उस ऑडियो क्लिप से छेड़छाड़ हुई है और कई अन्य ऑडियो क्लिप को जोड़कर उसे तैयार किया गया है।’ पुलिस ने उस ऑडियो क्लिप समेत कई अन्य ऑडियो क्लिप को जांच के लिए फोरेंसिक साइंस लेबोरेट्री भेज दिया है।

इसके साथ ही ये भी खबर आ रही है कि मौलाना साद के ससुर की कोरोना रिपोर्ट ही गायब हो गई है। साद के ससुर मौलाना सलमान के भाई विदेश से आए थे, उनका कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया था। स्वास्थ्य विभाग ने मौलाना साद के ससुर मौलाना सलमान सहित करीब 15 लोगों का सैंपल नोएडा की लैब में जांच के लिए भेजा था।

इस दौरान ये सभी लोग क्वारैंटाइन में रहे। इस बीच कोरोना सदिग्धों की रिपोर्ट निगेटिव आई, लेकिन इन रिपोर्ट्स में मौलाना साद के ससुर मौलाना सलमान की रिपोर्ट नहीं थी। सहारनपुर के सीएमओ डॉ. बी एस सोढी ने इस मामले मे नोएडा लैब से सम्पर्क किया तो पता चला कि मौलाना सलमान की रिपोर्ट मिसिंग है। जांच में सामने आया कि मौलाना सलमान के अन्य परिवारवालों की रिपोर्ट निगेटिव आई है।

डॉ. सोढ़ी ने कहा कि सैंपल मिस होने के कई कारण हो सकते हैं, ओवरलोड भी इसका कारण हो सकता है। ऐसी स्थिति में दोबारा से सैंपल को टेस्टिंग के लिए भेजा जाता है। मौलाना सलमान का भी सैंपल फिर से भेजा जा रहा है। जिसकी एक सप्ताह में रिपोर्ट आने की संभावना है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE