गोगोई के राज्यसभा भेजे जाने पर जस्टिस काटजू ने दिया विवादित बयान

अपने बेबाक बयानों को लेकर पहचाने जाने वाले सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज जस्टिस मार्कंडेय काटजू ने पूर्व चीफ जस्टिस रंजन गोगोई को राज्‍यसभा के लिए मनोनीत किए जाने को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होने गोगोई को न्यायपालिका पर एक धब्बा करार दिया।

उन्होने ट्वीट कर कहा, मैं 20 साल तक वकील और 20 तक जज रहा हूं। मैंने कई अच्छे जजों और कई बुरे जजों को जाना। लेकिन मैं भारतीय न्यायपालिका में किसी भी न्यायाधीश को इस यौन विकृत रंजन गोगोई जितना बेशर्म और अपमानजनक नहीं मानता। शायद ही कोई दोष है, जो इस आदमी में नहीं था। 

इसके अलावा जब फेसबुक पर अपने ट्वीट के संदेश को पोस्ट किया तो एक लाइन और जोड़ दिया। और लिखा, ‘और अब ये दुष्ट और धूर्त भारतीय संसद की शोभा बढ़ाएगा। हरि ओम’ बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के पूर्व मुख्यन्यायाधीश जस्टिस रंजन गोगोई को राज्यसभा के लिए नामित किया गया है।

केंद्र सरकार की ओर से सोमवार देर शाम जारी नोटिफिकेशन के मुताबिक राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पूर्व मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई को राज्यसभा के लिए नामित किया है। बता दें कि पूर्व सीजेआई रंजन गोगोई ने पिछले साल सालों से चले आ रहे राम मंदिर पर ऐतिहासिक फैसला सुनाया था।

At last the woman employee who was sexually molested by CJI Gogoi and victimized along with her family has been…

Posted by Markandey Katju on Wednesday, January 22, 2020

यह पहली बार नहीं है जब पूर्व जज काटजू ने पू्र्व चीफ जस्टिस रंजन गोगोई पर निशाना साधा है। 23 जनवरी को उन्होंने एक ट्वीट कर रंजन गोगोई पर निशाना साधते हुए उनकी छवि बेहद पाक साफ नहीं बताई थी। उन्होंने यह भी कहा कि उनके दामाद की आय शादी से पहले कम थी जो शादी के बाद अचानक बढ़ गई। उन्होंने पूर्व सीजेआई से जुड़े यौन शोषण के मामले पर भी सवाल उठाया।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE