बावरी महिलाओं ने पॉलीथिन बैग में थूक कर घरों में फेंका, CCTV में कैद हुई सारी करतूत

देश भर में फेक विडियो के माध्यम से तबलीगियों के थूक के जरिये कोरोना फैलाने की अफवाहों के बीच राजस्थान के कोटा में उस वक्त सनसनी फ़ेल गई। जब कई घरों के सामने थूक और गंदगी से भरी हुई पॉलीथिन बैग मिलना शुरू हुए। जिसको जमात के लोगों से जोड़ कर देखा जाने लगा। लेकिन जांच में कुछ और हकीकत सामने आई।

जानकारी के अनुसार, मामला शहर के वल्लभ बाड़ी इलाके का है। सीसीटीवी फुटेज में दिख रहीं महिलाएं न सिर्फ सड़कों और घरों में थूक रहीं हैं बल्कि पॉलीथिन बैग में थूक कर उसके टुकड़े घरों के अंदर और छतों पर भी फेंकते हुए दिखाई दे रहीं हैं।

हालांकि, शाम को कोटा एसपी गौरव यादव ने कहा कि इस मामले में चार महिलाओं को पकड़ा है। सभी महिलाएं बावरी समाज की हैं। महिलाओं की पहचान  माला पत्नी सूरज बावरी, दुलारी पत्नी राधेश्याम, आशा पत्नी माधव, और चंदा पत्नी मनोहर के रूप में हुई है। जो कच्ची बस्ती कुनहाड़ी की रहने वाली है।

जांच में पाया गया कि महिलाएं उस इलाके में भीख मांगने गई थी। जब भीख नहीं मिली तो इन्होंने लोगों के दरवाजे पर थूकना शुरू कर दिया। फिलहाल पूरे इलाके को सैनिटाइज करवा दिया गया है।  उल्लेखनीय है कि कोटा में अब तक कोरोना वायरस के 47 पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं।

इस बीच राज्य में 11 नए पॉजिटिव केस आए हैं। इनमें भरतपुर में एक ही मोहल्ले के 10 लोग शामिल हैं। एक संक्रमित बांसवाड़ा में मिला। राज्य में अब तक 815 संक्रमित मिल चुके हैं। राज्य में कोरोना से 11 लोगों की मौत हो चुकी है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE