10 दिन की नवजात को फेंक गए मां-बाप, मुस्लिम महिला ने अपना दूध पिलाकर दी जिंदगी

हरियाणा के पानीपत में जहां कलयुगी मां-बाप ने अपनी 10 दिन की नवजात बच्ची को किसी के घर के आगे छोडकर फरार हो गए तो वहीं एक मुस्लिम महिला ने अपना दूध पिलाकर उसे नई जिंदगी दी।

जानकारी के अनुसार, वधावाराम कालोनी में मरजीना ने पु’लिस को दी शिकायत में बताया कि वह गुरुवार रात करीब 11 बजे बाथरूम करने के लिए ऊपर मकान से नीचे आई थी। तो गली में बच्ची के रोने की आवाज सुनाई दी। घर का दरवाजा खोला तो देखा सीढ़ी पर 8 से 10 दिन की एक बच्ची रो रही थी।

घरवालों और स्थानीय लोगों के साथ मिलकर उन्होने बच्ची के माँ-बाप को तलाश किया लेकिन वह नहीं मिले। आखिरकार मरजीना ने बच्ची को अपना दूध पिलाकर सुला दिया। अगले दिन सुबह भी बच्ची के माता-पिता का सुराग नहीं लगा तो उन्होने अपने भाई अफरोज के साथ थाने में जाकर शिकायत दी।

मामले में किला थाना प्रभारी महीपाल ने बताया कि अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। आसपास के सीसीटीवी कैमरों की भी जांच की जा रही है। नजदीक के निजी अस्पतालों का भी रिकॉर्ड खंगाला जा रहा है।

वहीं इस बारे में बाल कल्याण समिति के सदस्य डॉ. मुकेश आर्य ने बताया कि डॉक्टरों से बच्ची के स्वास्थ्य के बारे में पता किया जाएगा। अगर बच्ची स्वस्थ है तो उसे कैथल के अडॉप्शन सेंटर में भेजा जाएगा।