ईदुल अज़हा को लेकर मुस्लिम स्टूडेंट्स ऑर्गेनाइजेशन की मुसलमानों से बड़ी अपील

मुस्लिम स्टूडेंट्स ऑर्गेनाइजेशन आफ़ इंडिया उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष मोहम्मद अबू अशरफ ज़ीशान ने एक बयान जारी करते हुए कहा है कि चंद दिनों के बाद ईदुल अज़हा का त्यौहार है और देश भर में तेज़ी से कोरोना महामरी फ़ैल रही है, इस लिए बीमारी से बचने के लिए ईदुल अज़हा के मौके पर हर मुमकिन क़दम उठायें।

मोहम्मद अबू अशरफ ज़ीशान ने कहा कि सरकार द्वारा जारी गाइड लाइन के मुताबिक़ नमाज़ पढ़ें, और उस में भी सोशल डिस्टिंटिंग का ख़ास ख्याल रखे।उन्होंने कहा कि यह बीमारी एक जिस्म से दुसरे जिस्म में जाती है, इस लिए हमेशा जिस की दूरी बना कर रखे। लेकिन अपने दिलों को हमेशा एक दुसरे से जोड़े रहें।

मोहम्मद अबू अशरफ ज़ीशान ने कहा कि ईदुल अज़हा के मौके पर क़ुर्बानी करते वक़्त भीड़ जमा न करें, बल्कि जितने लोग की ज़रुरत हो उतने ही लोग वहां पर रहें, वहीँ क़ुर्बानी खुली जगह पर न करे, बल्कि चारों तरफ से पर्दा करके ही क़ुर्बानी करे।

उन्होंने यह भी कहा कि यह सोशल मीडिया का ज़माना है और लोग हर चीज़ सोशल मीडिया पर पोस्ट करते हैं,लेकिन क़ुर्बानी के जानवर या उन का गोश्त सोशल मीडिया पर पोस्ट न करे। बल्कि उनका वीडियो ही न बनाए।

उन्होंने कहा कि गोश्त कहीं ले जाना हो तो उसे छुपा कर ले जाएँ। खुले आम न ले जाएँ ,खुले तौर पर गोश्त ले जाने में आप को कई तरह की परेशानी आ सकती है। वहीँ जानवर की हड्डी या जिन चीज़ों को नहीं खाया जाता है, उन्हें इधर उधर न फेंकें। बल्कि ज़मीन में दफ़न कर दें। और अपने आस पास साफ़ सफाई का भरपुर ख्याल रखें।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE