केरल: मुस्लिम परिवार ने गोद ली हुई हिंदू बेटी की मंदिर में कराई शादी

केरल के कासरगोड में रहने वाले एक मुस्लिम परिवार ने अपनी गोद ली हुई हिंदू बेटी की शादी हिंदू रीति-रिवाज से कराकर एक बड़ी मिसाल पेश की है। उन्होने अपनी हिंदू बेटी की शादी हिंदू रीति-रिवाजों के साथ मंदिर में कराई। वहां पर हिंदू समुदाय के भी कई लोग मौजूद थे।

कासरगोड के भगवती मंदिर में रविवार को ये शादी संपन्न हुई। पारंपरिक हिंदू परिधान में सजी राजेश्वरी की शादी विष्णु प्रसाद के साथ हुई। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अब्दुला अपनी पत्नी खदीजा के साथ कासरगोड में ही रहते हैं। उनकी गोद ली हुई बेटी का नाम राजेश्वरी है।

राजेश्वरी की मां की उस वक्त मौ’त हो गई थी जब वह बच्ची थी। राजेश्वरी के पिता अब्दुल्ला और खदीजा के फार्म पर काम करते थे। उनकी मौ’त के बाद इस परिवार ने राजेश्वरी को गोद ले लिया। राजेश्वरी अब्दुल्ला और खदीजा के बच्चों शमीम, नजीब और शरीफ के साथ ही बड़ी हुई।

अब्दुल्ला ने राजेश्वरी को हिंदू रीति-रिवाज मानने की पूरी आजादी दे रखी थी। एक ही घर में रहते, लेकिन राजेश्वरी अपने धर्म को मानती और अब्दुल्ला अपने धर्म को मानता और उसके मुताबिक काम करते थे।

गौरतलब है कि इस साल जनवरी में केरल के कयमकुलम की एक मस्जिद में हिंदू विवाह कराया गया था। चेरूवली मुस्लिम जमात मस्जिद के पास रहने वाली 22 वर्षीय अंजू की मां बिंदु ने मस्जिद कमिटी से मदद मांगी थी। मस्जिद कमिटी अंजू की शादी में 2 लाख रुपये और 10 सोने के सिक्के उपहार में दिए। 1 हजार लोगों के लिए भोजन की व्यवस्था की गई।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE