हज की तमन्ना पूरी होगी भी या नहीं, मुख्तार अब्बास ने दी अहम जानकारी

हज यात्रा पर को’रोना के संकट के मंडरा रहे बादलों के बीच केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्री मुख्तार अब्बास नकवीने कहा है कि हज यात्रा पर निर्णय सऊदी अरब की सरकार लेगी। जिसके बाद ही हज यात्रा को लेकर फैसला होगा।

नकवी ने कहा कि को’रोना आपदा के चलते हज यात्रियों के लिए जो भी फैसला सऊदी सरकार लेगी भारत उसके साथ खड़ा है। नकवी ने हज यात्रा के मसले पर भारत सरकार और सऊदी सरकार के रुख को साफ किया। केंद्रीय मंत्री ने साफ कहा कि हज की सारी संभावनाएं सऊदी अरब की सरकार पर ही निर्भर है और भारत भी सऊदी अरब सरकार के निर्णय के साथ खड़ा हुआ है।

नकवी ने कहा कि, हालांकि हमने अपनी पूरी तैयारियां कर ली हैं। हमने हज यात्रा के लिए लोगों से आवेदन भी ले लिए हैं। इधर, इंडोनेशिया ने गुरुवार को एलान किया कि उनके देश के लोग इस साल भी कोरो’ना संक्रमण के चलते हज यात्रा में शामिल नहीं होंगे।

बता दें कि सऊदी अरब ने विदेशियों के लिए बेहद ही कम संख्या में हज यात्रियों का कोटा निर्धारित किया है। हालांकि सऊदी अरब ने अभी तक हज यात्रा को लेकर कोई कोई गाइडलाइंस जारी नहीं की है। इसके अलावा सऊदी अरब ने देशों के बीच का कोटा एलान नहीं किया है।

हज इस्लाम में एक पवित्र धार्मिक यात्रा है। साथ ही यह मुसलमानों के लिए एक अनिवार्य धार्मिक कर्तव्य भी है। जिसे सभी सक्षम मुसलमानों द्वारा जीवन में कम से कम एक बार किया जाना चाहिए आवश्यक हैं।