MSO ने की दिल्ली दं’गों की न्यायिक जांच की मांग

नई दिल्ली: मुस्लिम स्टूडेंट ओर्गेनाइजेशन ऑफ इंडिया (एमएसओ) ने उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुए भीषण दं’गे की कड़ी निंदा करते हुए इस हिं’सा के लिए कानून और व्यवस्था को जिम्मेदार बताया।

एमएसओ के राष्ट्रिय अध्यक्ष शुजात अली कादरी ने कहा कि उत्तर पूर्वी दिल्ली में हालत बहुत ही दयनीय है। जो चिंता का विषय है। फासीवादी गुंडे जिस परकार से हिं’सा और लुटपाट कर रहे है। किसी भी देश और समाज के लिए सही नहीं है। उन्होने कहा कि दंगों प्रवृति को देखकर ऐसा लगता है कि दं’गे पूर्व नियोजित थे। इतना ही नहीं इन दं’गों को भाजपा नेताओं और पुलिस का भी पूर्ण समर्थन प्राप्त है।

उन्होने गृह मंत्री अमित शाह के इस्तीफे की मांग करते हुए कहा कि वह दिल्ली के लोगों की जान, माल और कानून की सुरक्षा करने में विफल रहे। उन्होने आरोप लगाया कि ये हिं’सा बीजेपी नेता कपिल मिश्रा के भड़काऊ भाषणों का नतीजा है। उन्होने दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल से हिं’साग्रस्त क्षेत्रों का दौरा करने की भी अपील की।

कादरी ने हिंसा की जांच के लिए न्यायिक आयोग के गठन की मांग की। उन्होने कहा कि दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए। साथ ही पीड़ितों को तत्काल मुआवजा दिया जाये। कादरी ने हिं’सा ग्रस्त क्षेत्रों में तत्काल सेना लगाए जाने की भी मांग की।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE