Home राष्ट्रिय मोदी राज में 3 सालों में 2 हजार से ज्यादा दंगे, 294...

मोदी राज में 3 सालों में 2 हजार से ज्यादा दंगे, 294 लोगों ने गवाई अपनी जान

1332
SHARE

सबका साथ-सबका विकास का दावा करने वाली मोदी सरकार के बीते तीन साल रक्तरंजित रहे। इन दिनों में देश ने 2 हजार से ज्यादा दंगे झेले। जिनमे 294 लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा।

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री हंसराज गंगाराम अहीर के मुताबिक, वर्ष 2017 में 822, 2016 में 703, 2015 में 751 दंगे हुए। जिनमे 2017 में 111, 2016 में 86 और 2015 में 97 लोग मारे गए।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

सांप्रदायिक हिंसा के सबसे ज्यादा मामले भाजपा शासित राज्य उत्तर प्रदेश में आए। यहां सांप्रदायिक हिंसा की 195 घटनाएं हुई, जिसमें 44 लोग मारे गए। दूसरे स्थान पर कर्नाटक रहा। जहां 100 सांप्रदायिक घटनाओं में 9 लोग मारे गए। इसके अलावा बिहार में सांप्रदायिक हिंसा की 85 घटनाओं में 3 लोग मारे गए।

इसके अलावा उन्होने बीते तीन साल में रोड रेज के मामलो की भी जानकारी दी।  अहीर ने राज्यसभा को बताया कि वर्ष 2015 में रोड रेज के 92 मामलों की खबर थी जिनमें चार लोगों की जान गई और 80 घायल हुए। इन मामलों में 106 लोगों को गिरफ्तार किया गया।

उन्होंने बताया कि वर्ष 2016 में रोड रेज के 66 मामलों में दो लोग मारे गए और 55 घायल हुए और 80 लोगों को गिरफ्तार किया गया। उन्होंने बताया कि वर्ष 2017 में रोड रेज के 64 मामलों में तीन लोग मारे गए और 55 घायल हुए और 29 लोगों को गिरफ्तार किया गया।

अहीर ने बताया कि इस साल 30 जून तक रोड रेज के 22 मामलों की खबर आई जिनमें 23 लोग घायल हुए और 29 को गिरफ्तार किया गया।

Loading...