Home राष्ट्रिय मोदी का राहुल से सवाल – कांग्रेस सिर्फ मुस्लिमों पुरुषों की पार्टी...

मोदी का राहुल से सवाल – कांग्रेस सिर्फ मुस्लिमों पुरुषों की पार्टी क्यों ?

946
SHARE

मिशन 2019 के तहत उत्तर प्रदेश के दौरे पर निकले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को आजमगढ़ में तीन तलाक के मुद्दे पर कांग्रेस को घेरते हुए कहा कि विपक्षी दल पर इस कानून में ‘रोड़े अटकाने’ का है।

जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने हाल में राहुल गांधी की मुस्लिम समुदाय से मीटिंग पर तंज कसा। उन्होने कहा, “मैंने अखबार में पढ़ा…कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष श्रीमान नामदार ने ये कहा कि कांग्रेस मुस्लिमों की पार्टी है…पिछले दो दिन से चर्चा चल रही है…मुझे आश्चर्य नहीं हो रहा है…क्योंकि पहले जब मनमोहन सिंह जी की सरकार थी तो उन्होंने कह दिया था कि देश के प्राकृतिक संसाधनों पर सबसे पहला हक मुसलमानों का है…ये कह चुके थे…लेकिन मैं कांग्रेस पार्टी के ये नामदार से पूछना चाहता हूं…कांग्रेस पार्टी मुस्लिमों की पार्टी है…आप को ठीक लगे आपको मुबारक…लेकिन ये तो बताइए…मुस्लिमों की पार्टी भी सिर्फ पुरुषों की है कि महिलाओं की भी है…क्या मुस्लिम महिलाओं के इज्जत, सम्मान के लिए कोई जगह है क्या।”

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने कहा,‘‘21वीं सदी में ऐसे राजनीतिक दल जो 18वीं शताब्दी में गुजारा कर रहे हैं मोदी को हटाने के नारे दे सकते हैं लेकिन देश का भला नहीं कर सकते … जब भाजपा सरकार ने संसद में कानून लाकर मुस्लिम बहन बेटियों को अधिकार देने की कोशिश की तो उस पर भी रोडे अटका रहे हैं। ये चाहते हैं कि तीन तलाक होता रहे मुस्लिम बहन बेटियों का जीवन तबाह रहे।’

मोदी ने कहा कि वह विश्वास दिलाते हैं कि इन दलों को समझाने की पूरी कोशिश करेंगे ताकि मुस्लिम बेटियों को तीन तलाक से होने वाली परेशानी से मुक्ति मिले। उन्होंने कहा,‘‘ऐसे दलों और उनके नेताओं से सावधान रहने की जरूरत है। अपने स्वार्थ में डूबे ये लोग सबका भला नहीं सोच सकते।

बता दें कि राहुल गांधी की मीटिंग के बाद उर्दू मीडिया में खबर आई थी कि राहुल गांधी ने कांग्रेस को मुसलमानों की पार्टी बताया है। जिसे आधार बनाते हुए पीएम मोदी ने आज यह टिप्पणी की और तीन तलाक पर कांग्रेस पार्टी के स्टैंड को लेकर राहुल गांधी को घेरने की कोशिश की।

सपा-बसपा को आड़े हाथ लेते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘सचाई ये है कि इन दलों ने जनता और गरीब का भला नहीं बल्कि सिर्फ अपना और अपने परिवार के सदस्यों का भला किया है।’ उन्होंने कहा, ‘‘इन दलों ने वोट गरीब और पिछडों से मांगे । उनके नाम पर सरकार बनाकर सिर्फ अपनी तिजोरियां भरीं, उनके लिए और कुछ नहीं किया।’ आजकल तो आप खुद देख रहे हैं कि जो कभी एक दूसरे को देखना नहीं चाहते थे, पसंद नहीं करते थे, वो अब एक साथ हैं।’

Loading...