पीएम मोदी बोले – महामारी से निपटने में काम आया इनोवेशन, अब अर्थव्यवस्था को सुधारने की जरूरत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को विवाटेक के 5वें एडिशन को संबोधित किया। मुख्य अतिथि शामिल हुए पीएम मोदी ने कहा कि देश में कोरो’ना महामारी के कारण उत्पन्न बाधाओं से निपटने में इनोवेशन काम आया। अब स्वास्थ्य सुविधाओं और अर्थव्यवस्था को दुरुस्त करने की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि को’विड-19 महामारी में इनोवेशन हमारे बचाव में आया। जहां परंपराएं असफल होते हैं, वहां इनोवेशन काम में आता है। इनोवेशन से मेरा मतलब महामारी के पहले और महामारी के दौरान से है। उन्होने कहा कि आधार ने महामारी के दौरान लोगों को समय पर मदद पहुंचाने में मदद की, लोगों को मुफ्त राशन, खाना पकाने के लिए ईंधन दिया गया।

उन्होंने कहा कि कोविड के दो टीके भारत में बनाए गए हैं तथा कुछ और टीको के विकास एवं परीक्षण का काम चल रहा है। उन्होंने कहा, ‘पिछले एक साल से हमने विभिन्न क्षेत्रों में बाधाओं का अनुभव किया है। अभी भी इसका काफी प्रभाव है, लेकिन हमें इससे निराश नहीं होना है।

पीएम मोदी ने कहा कि भारत के युवाओं ने दुनिया की कुछ सबसे गंभीर समस्याओं का तकनीकी समाधान दिया है। आज भारत में 1.18 बिलियन मोबाइल फोन और 775 मिलियन इंटरनेट उपयोगकर्ता हैं। विश्व में सबसे अधिक और सबसे सस्ता डेटा खपत करने वाले देशों में भारत एक है।

भारतीय सोशल मीडिया के सबसे बड़े उपयोगकर्ता हैं। एक विविध और व्यापक बाजार है जो आपकी प्रतीक्षा कर रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत ने खान से लेकर अंतरिक्ष तक और बैंकिंग से लेकर परमाणु ऊर्जा तक सभी क्षेत्रों में व्यापक सुधार किए हैं।

उन्होंने कहा कि भारत नवाचारों और निवेशकों को उनके अनुरूप सुविधाएं मुहैया कराता हैं। उन्होंने कहा, ‘मैं प्रतिभा, बाजार, पूंजी, परिवेश और खुलेपन की संस्कृति ए इन पांच स्तंभों के आधार पर दुनिया को भारत में निवेश करने के लिए आमंत्रित करता हूं।’