मौलाना साद की बुराई पर भाजपा नेता को पंचायत ने कराई उठक-बैठक

कथित तौर पर कोरोना से जुड़े मामले में तबलीगी जमात के प्रमुख मौलाना साद (Maulana saad) की आलोचना करना बिहार में भाजपा के एक नेता को महंगा साबित हुआ और उसे उठक-बैठक तक करनी पड़ी। यही नहीं, इसका वीडियो बनाकर वायरल भी कर दिया गया।

न्यूज़ 18 के अनुसार, नालन्दा जिले के सारे थाना क्षेत्र के हरगांवा गांव में भाजपा के अतिपिछड़ा प्रकोष्ठ के पूर्व जिला महामंत्री अरविन्द ठाकुर निजामुद्दीन तब्लीगी मरकज के मुखिया मौलाना साद की चर्चा कर रहे थे। तभी मौलाना साद की आलोचना से गुस्साए कुछ लोगों ने नेता की दुकान में घुसकर उनकी पिटाई कर दी। इसके बाद लोगों ने पंचायत में शिकायत भी कर दी।

इसके बाद 31 मार्च को गिलानी पंचायत के मुखिया की मौजूदगी में पंचायत बुलायी गयी। पंचायती में उठक-बैठक करने की सजा दी गयी। उन्होंने फैसले का मान रखते हुए न सिर्फ उठक-बैठक की, बल्कि पैर छूकर माफी भी मांगी। बदमाशों ने इसका वीडियो बना लिया। कुछ दिनों बाद उसे वायरल कर दिया। आरोपित पिता-पुत्र पर मारपीट करने और छवि धूमिल करने का आरोप है।

वीडियो वायरल होने के बाद भाजपा नेताओं में आक्रोश हैं। अति पिछड़ा सेल के जिलाध्यक्ष सूरज चंद्रवंशी ने पुलिस-प्रशासन से कड़ी कार्रवाई की मांग की है। थानाध्यक्ष दिनेश कुमार सिंह ने बताया कि वीडियो वायरल करने के आरोप में दो लोगों पर एफआईआर करायी गयी है। पुलिस जांच में जुट गयी है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE