Home राष्ट्रिय दिल्ली की पहली ड्राइवरलेस मेट्रो के उद्घाटन में केजरीवाल को नही मिला...

दिल्ली की पहली ड्राइवरलेस मेट्रो के उद्घाटन में केजरीवाल को नही मिला न्योता, मोदी-योगी रहेंगे मौजूद

87
SHARE

नई दिल्ली । क्रिसमस के दिन प्रधानमंत्री मोदी, दिल्ली और नोयडा की जनता को ड्राइवरलेस मेट्रो का तोहफ़ा देने जा रहे है। 25 दिसम्बर को मोदी, मजेंटा लाइन की मेट्रो का उद्घाटन करेंगे। यह दिल्ली की पहली ड्राइवरलेस मेट्रो होगी। इसके अलावा इस नई मेट्रो के लिए जितने भी स्टेशन बनाए गए है उनमें लोगों की सुरक्षा के लिए लाइन के पास ऑटमेटेड दरवाज़े लगाए गए है।

ये दरवाज़े केवल उसी समय खुलेंगे जब मेट्रो स्टेशन पर आकार रुक जाएगी। इस तकनीक के ज़रिए स्टेशन पर मेट्रो लाइन पर होने वाली दुर्घटनाओं से बचा जा सकेगा। यही नही नई मेट्रो की सीटों का रंग भी बदला गया है। लाल और नारंगी रंग की सीटे लगायी गयी है। जहाँ लाल रंग पुरुषों के बैठने के लिए तो वही नारंगी रंग की सीट महिलाओं के बैठने के लिए होगी। हालाँकि इस नई लाइन के उद्घाटन के समय एक विवाद भी जुड़ गया है।

दरअसल मजेंटा लाइन मेट्रो के उद्घाटन में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को न्योता नही भेजा गया है। जबकि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उद्घाटन के समय वहाँ मौजूद रहेंगे। जबकि दिल्ली मेट्रो का विस्तार, दिल्ली सरकार के सहयोग से किया जाता है। फ़िलहाल राजनीतिक गलियारों में इसको लेकर ख़ूब चर्चा हो रही है। कुछ लोग इसे मोदी और केजरीवाल की राजनीतिक प्रतिद्वंता के साथ भी जोड़कर देख रहे है।

बताते चले की मजेंटा लाइन मेट्रो दक्षिणी दिल्ली के कालकाजी मंदिर से नोयडा के बोटेनिकल गार्डन तक चलेगी। इस मेट्रो के शुरू होने से उन लोगों का काफ़ी समय बचेगा जो नोयडा से दक्षिणी दिल्ली जाते है। अभी तक कालकाजी मंदिर या दक्षिणी दिल्ली के किसी भी इलाक़े में जाने के लिए मंडी हाउस पर मेट्रो बदलकर ब्लू लाइन से वायलेट लाइन पर जाना होता था। फ़िलहाल इस ड्राइवरलेस मेट्रो में 2-3 साल के लिए ड्राइवर रखे जाएँगे।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...