डीयू के स्टूडेंट का आरोप – कश्मीरी होने की वजह से OYO ने नहीं दिया होटल में कमरा

होटल स्टार्टअप और दुनिया में होटल्स, होम्स एवं स्पेसेज़ की अग्रणी चेन ओयो पर कश्मीरियों के साथ भेदभाव करने का आरोप लगा है। दिल्ली यूनिवर्सिटी के एक कश्मीरी मूल के छात्र ने आरोप लगाया कि कश्मीरी होने कि वजह से उसके परिवार को ओयो होटल ने कमरा देने से इनकार कर दिया।

कश्मीर के डोडा इलाके के रहने वाले छात्र ने आरोप लगाया है कि उसने नॉर्थ कैंपस के पास अपने पिता और बहन के लिए कमरा बुक कराया था, लेकिन होटल वालों ने देने से मना कर दिया। होटल वालों ने छात्र से कहा कि वह अफगानिस्तान, पाकिस्तान ओर बांग्लादेश के लोगों को कमरा नहीं देते हैं।

कश्मीरी मूल के नौमान रशिक दिल्ली यूनिवर्सिटी में पढ़ाई करते हैं। उन्होने कहा कि एड्रेस प्रूफ दिखाने के बावजूद होटल वाला कमरा देने को तैयार नहीं हुआ। इतना ही नहीं होटल अथॉरिटी ने कथित तौर पर कहा कि पुलिस से आदेश हैं कि कश्मीरी लोगों को भी कमरा ना दिया जाए।

हालांकि ओयो ने कहा कि वह इस मामले की जांच कराएगा, फिलहाल होटल के साथ पार्टनशिप को अस्थाई रूप से निलंबित कर दिया गया है वहीं  मामले में मुखर्जी नगर पुलिस स्टेशन के एसएचओ से इस बारे में बात की गई तो उन्होंने जो लोग अपनी आईडी ना दिखाएं, उन्हें कमरा देने से मना किया गया है। उन्होंने कश्मीरी मूल के लोगों को कमरा ना देने की बात से इंकार किया।

इस संबंध में होटल ने कुछ भी कहने से मना कर दिया है। ओयो प्रवक्ता ने कहा, ‘ओयो धर्म, नस्ल, लिंग, जाति का भेदभाव किए बिना मेहमानों को गुणवत्ता वाले कमरे उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE