बुर्के में मंदिरों को सैनिटाइज करती है इमरान, देश भर में हो रही तारीफ

नई दिल्ली: उत्तर पूर्वी दिल्ली के जाफ़राबाद इलाके की 32 साल की इमराना सैफ़ी की तस्वीर सोशल मीडिया पर बड़े पैमाने पर वायरल हो रही है। जिसमे वह एक मंदिर को सैनिटाइज़ कर रही है। इस इलाक़े में कई मस्ज़िदों के साथ मंदिर और गुरुद्वारे भी हैं। इन सभी को भी इमराना ही सैनिटाइज़ करती है।

तीन बच्चों की मां इमराना इन दिनों रोजे से भी है। लेकिन वह हर रोज़ नियम से मंदिर, मस्जिद और गुरुद्वारा जाना नहीं भूलतीं। मंदिर के पुजारी इमराना का पूरे सम्मान से स्वागत करते हैं। पीठ पर RWA का सैनिटाइज़र ड्रम लगाकर जाती हैं और  स्प्रे कर  इन सबको  सैनिटाइज़ करती हैं… ये सिलसिला बदस्तूर जारी है।

इमराना NDTV के साथ बात करते हुए कहती है, “हमारी जो गंगा-जमुनी तहज़ीब है उसे ही कायम करना चाहती हूं। हम देश के लिए पैग़ाम पहुंचाना चाहते हैं कि हम सब एक हैं और एक साथ रहेंगे। इसलिए मैं घर से बाहर निकल रही हूं।इमराना अपने साथ सरिता जनागल आसमा सिद्दीकी , नसीम बानो ने एक छोटी-सी टीम बनाकर RWA फेडरेशन ऑफ़ दिल्ली से जुड़ कर काम कर रही है।

इमराना बताती हैं,”हमें कोई पुजारी या दूसरे लोग नहीं रोकते। अभी तक तो कोई मुश्किल नहीं हुई है।” वो कहती हैं कि जब वो पुजारी से पूछती हैं कि वो नक़ाब में हैं और मंदिर को सैनिटाइज़ करना चाहती हैं। तो,पुजारी दिल खोलकर उनका स्वागत करते हुए उन्हें मंदिरों को सैनिटाइज़ करने देते हैं। बल्कि साथ साथ मंदिर का हर कोना सेनेटाइज़ करने में उनकी मदद भी करते है !

नेहरू विहार के श्री नव दुर्गा मंदिर के पुजारी पंडित योगेश कृष्ण ने एनडीटीवी से कहते हैं  की ये अच्छी पहल है उन्होंने हमारे मंदिर  को सेनेटाइज़ किया ,एक दूसरे का सहयोग करना ज़रूरी भी है , उन्होंने आगे कहा की मंदिर था उसको सेनेटाइज़ करना ज़रूरी भी हो गया था और उन्होंने ये नेक किया अच्छा काम किया , नफरत तो बेकार की चीज़ है प्रेम अच्छी चीज़ है इंसान को इंसान का हितैषी होना चाहिए !


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE