कर्नाटक की सैकेंड टॉपर बनी हिजाबी छात्रा इल्हाम, साबित किया पढ़ाई की राह में रुकावट नहीं हिजाब

0
817

कर्नाटक में हिजाब विवाद अभी भी जारी है और इसी के साथ कई स्कूल्स में हिजाब को बैन करने के लिए हाईकोर्ट ने फरमान जारी किया था लेकिन जिसके बाद याचिकाकर्ता ने इस फैसले को चुनौती देते हुए सुप्रीम कोर्ट का रुख किया था किया था।

सुप्रीम कोर्ट में अभी भी यह मामला पड़ा हुआ है जिसका अभी फैसला नहीं आया है लेकिन जहां कर्नाटक में हिजाब को लेकर इतनी बातें हैं वही हिजाबी छात्रा बुशरा मतीन ने 16 गोल्ड मेडल जीतकर राज्य का नाम रोशन किया था इसके साथ ही अब इसीकड़ी में इलहाम नामक हिजाबी लड़की ने नाम जोड़ा है उसने कर्णाटक बोर्ड में सेकंड रैंक हासिल का माँ-बाप का नाम रोशन किया है।

विज्ञापन

दरअसल इल्हाम ने कर्नाटक बोर्ड प्री-यूनिवर्सिटी सर्टिफिकेट एग्जाम (Karnataka second Pre-University Certificate-PUC 2022) में राज्य में सेकंड रैंक हासिल की है।जिसके चलते इलहाम इस टाइम सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रही है।

इसके साथ ही कर्नाटक में हिजाब मामले के बीच यह दो छात्राएं उभर कर के सामने आयी है उन्होंने ये कर दिखाया है की हजाबी होने से उनकी एजुकेशन पर कोई फर्क नहीं पड़ता।

जिसके बाद इल्हाम सोशल मीडिया पर पूरी तरह से छा गयी है। अपनी कामयाबी पर इलहाम बात करते हुए कहती हैं कि मैंने दसवीं के बाद खुद को पढ़ाई के लिए पूरी तरह से समर्पित कर दिया था इसके आगे उन्होंने बताया कि वह क्लिनिकल साइकोलॉजी में अपना करियर बनाना चाहती हैं और वही इल्हाम के पिता मोहम्मद रफीक की रीटेल चैन आउटलेट में मैनेजर है इसके साथ ही उनकी एक छोटी बेटी भी है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here