No menu items!
26.1 C
New Delhi
Monday, September 27, 2021

बाढ़ प्रभावित दतिया में फंसे मध्य प्रदेश के गृह मंत्री को IAF ने किया हेलीकॉप्टर

- Advertisement -

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा को बुधवार को मध्य प्रदेश के बाढ़ प्रभावित दतिया जिले में भारतीय वायु सेना (IAF) के हेलीकॉप्टरों द्वारा एयरलिफ्ट किया गया। जिस पर विपक्षी कांग्रेस ने आपत्ति जताई है।

कांग्रेस ने इसे पूरे मामले को मंत्री की सुरक्षा के लिए खत’रनाक बताया, इसके अलावा संसाधनों का दुरुपयोग करार दिया। जिसका आदर्श रूप से इस्तेमाल केवल फंसे हुए आम लोगों को बचाने के लिए किया जाना चाहिए, जो अनावश्यक रूप से बचाव कार्यों में शामिल हो गए।

घटना राज्य के ग्वालियर-चंबल क्षेत्र के दतिया जिले के कोटरा गांव की है। नरोत्तम मिश्रा दतिया के स्थानीय भाजपा विधायक भी हैं। उन्होने बुधवार को दतिया (उनके विधानसभा क्षेत्र) और ग्वालियर के डबरा (उनके पूर्व निर्वाचन क्षेत्र) के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में प्रयासों की निगरानी के लिए हवाई सर्वेक्षण के साथ एसडीआरएफ की नावों से भी क्षेत्र का दौरा किया था।

मंगलवार रात से लगभग नौ ग्रामीणों के ग्राम पंचायत भवन में फंसे होने के बारे में पता चलने पर, गृह मंत्री ने एसडीआरएफ नाव से दतिया जिला मुख्यालय से लगभग 30 किलोमीटर दूर कोटरा गाँव में घटनास्थल की यात्रा की। गृह मंत्री से जुड़े आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, संबंधित भवन में पहुंचने पर, एसडीआरएफ की नाव एक पेड़ गिरने के कारण बाढ़ के पानी में फंस गई, जिससे कई लोगों के साथ वापसी करना मुश्किल हो गया।

इसके बाद, पहले से ही बचाव कार्यों में लगे भारतीय वायुसेना के एक हेलीकॉप्टर को ग्रामीणों और मंत्री को बचाने के लिए भेजा गया। भारतीय वायुसेना के हेलीकॉप्टर ने कोटरा गांव के लिए उड़ान भरी और फंसे ग्रामीणों, गृह मंत्री और उनके साथ आए सुरक्षा कर्मचारियों को एयरलिफ्ट किया।

इस बीच, विपक्षी कांग्रेस के राज्य मीडिया सेल के उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने पूरे कृत्य पर सवाल उठाया। “यह एनडीआरएफ और एसडीआरएफ हैं जो जमीन पर बचाव अभियान चलाते हैं, जबकि मंत्रियों को केवल ऑपरेशन की निगरानी करनी चाहिए। मंत्री को वहां जाने और स्पाइडरमैन बनने की कोशिश करने की क्या जरूरत थी। इस तरह के कृत्य मंत्री की सुरक्षा के लिए अनुपयुक्त हैं और संसाधनों के दुरूपयोग के समान हैं। इस तरह के कृत्य ख’तरनाक परंपरा को जन्म देंगे।”

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article