हार्दिक पटेल 18 जनवरी से ही लापता, पत्नी किंजल ने किया दावा

आरक्षण आंदोलन के दौरान पाटीदार नेता हार्दिक पटेल के खिलाफ दर्ज हुए मुकदमों को लेकर देशद्रोह का मामला दर्ज किया गया है। कोर्ट ने हार्दिक के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया। जिसके बाद उन्हें 18 जनवरी को राजद्रोह के मामले में गिरफ्तार किया गया था।

इसी बीच पटेल की पत्नी किन्जल ने सोमवार को  दावा किया कि हार्दिक पटेल का 18 जनवरी से कोई अता पता नहीं है। हार्दिक की पत्नी किंजल पटेल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा है कि कि उन्हें कोई जानकारी नहीं है कि हार्दिक को पुलिस ने पकड़ा है या फिर वह कहीं और हैं। किंजल ने हार्दिक की सुरक्षा को लेकर भी चिंता जाहिर की है। परिवार का भी दावा है कि हार्दिक के आखिरी बार गिरफ्तार होने के बाद उनसे जुड़ी कोई जानकारी नहीं मिली है।

पटेल 2015 में पाटीदार आरक्षण आंदोलन से संबंधित राजद्रोह के मामलों का सामना कर रहे हैं। उन्हें चार दिन बाद जमानत दे दी गई थी, लेकिन पाटन और गांधीनगर जिलों में दर्ज दो मामलों के संबंध में उन्हें फिर से हिरासत में ले लिया गया था। पटेल को 24 जनवरी को इन दोनों मामलों में जमानत मिल गई थी।

निचली अदालत ने एक बार फिर सुनवाई के दौरान हाजिर नहीं होने पर सात फरवरी को गैर जमानती वारंट जारी कर दिया था। पटेल कुल 20 से अधिक मामलों का सामना कर रहे हैं, जिसमें दो मामले देशद्रोह से संबंधित हैं।

पाटीदार आरक्षण के नेताओं की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम में किन्जल ने कहा कि हार्दिक पटेल को 18 जनवरी को गिरफ्तार किए जाने के बाद से उनका पता नहीं है। हमें नहीं पता है कि वह कहां हैं, लेकिन पुलिस बार-बार आकर हमसे उनका पता पूछती है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE