फर्जी ट्वीट्स के चलते GoAir ने मुस्लिम पायलट को नौकरी से निकाला?

नई दिल्लीः लो बजट हवाई सेवा प्रदाता कंपनी गो एयर (Go Air) ने अपने एक कर्मचारी को सीता माता पर अभद्र टिप्पणी करने पर नौकरी से निकाल दिया है। हालांकि नौकरी से हटाए गए आसिफ खान का कहना है कि जिन विवादित पोस्ट्स की बात की जा रही है, वे उनके एकाउंट से किए ही नहीं गए हैं। बल्कि किसी ने उनके नाम के प्रोफाइल से वे ट्वीट्स किए हैं।

गो एयर ने ट्विटर पर जानकारी साझा करते हुए लिखा कि, ‘गोएयर की जीरो टॉलरेंस पॉलिसी है और सभी गोएयर कर्मचारियों के लिए कंपनी में नियुक्ति के नियम, कायदे और नीति, जिसमें सोशल मीडिया का व्यवहार भी शामिल है, का पालन करना अनिवार्य है। किसी व्यक्ति या कर्मचारी के निजी विचार का कंपनी से वास्ता नहीं है। ट्रेनी फर्स्ट ऑफिसर आसिफ खान का कॉन्ट्रैक्ट तत्काल प्रभाव से खत्म किया जा रहा है।’

The Wire के अनुसार, दूसरी और आसिफ का कहना है कि उनके द्वारा ट्विटर पर कोई भी पोस्ट नहीं किया गया था। उनके एकाउंट में उनकी तस्वीर है और डिस्क्रिप्शन में पायलट लिखा हुआ है। आसिफ की शिकायत है कि कंपनी ने उनका पक्ष सुने बिना, पूरी स्थिति को जाने बगैर ही ही उन्हें नौकरी से निकाल दिया। आसिफ ने फेसबुक पर लिखी एक पोस्ट में अपना पक्ष बताया और कहा कि इस घटना के बाद से उन्हें सोशल मीडिया पर बहुत धमकियां मिली हैं, मेरी मां और बहन से रे’प करने जैसी बातें कही जा रही हैं।

आसिफ लिखते हैं, ‘मेरा नाम आसिफ खान है और मैं मुंबई का रहने वाला हूं। मैं गो एयर में ट्रेनी फर्स्ट ऑफिसर के रूप में कार्यरत हूं। मैंने इस नौकरी के लिए बहुत संघर्ष किया है। मैंने 6 साल तक संघर्ष के बाद इस बड़ी कंपनी में नौकरी पिछले साल दिसंबर में पाई। ये मेरी पहली ड्रीम जॉब है और मेरे लिए बहुत मायने रखती है। लेकिन कल एक फोन कॉल ने सब बदल दिया।’

आसिफ बताते हैं कि को कंपनी के कुछ सीनियर अधिकारियों ने उन्हें ने फोन करके इस बारे में जानकारी दी थी। वे लिखते हैं, ‘4 जून मेरे कुछ सीनियर्स ने फोन करके मेरे ट्विटर एकाउंट के बारे में मुझसे पूछताछ की, जिसके बाद मैंने ट्विटर चेक किया तो पाया #BoycottGoair ट्रेंड कर रहा था। मैंने पाया मेरे ही नाम के एक शख्स ने हिंदू भगवानों के बारे में अपशब्द लिखे थे।

इस व्यक्ति की प्रोफाइल में लिखा था कि वो गो एयर में केबिन क्रू के तौर पर काम करता है। लेकिन उसकी प्रोफाइल फोटो देखकर कोई भी बता सकता है कि ये मेरी तस्वीर नहीं है बल्कि कोई और शख्स है। आसिफ ने लिखा है कि उनकी पहचान को किसी और व्यक्ति से कंफ्यूज किया जा रहा है, जिसका खामियाज़ा उन्हें और उनके परिवार को भुगतना पड़ रहा है। मां और बहन को रे’प की भी धमकियां दी गई हैं। नफरत भरे कमेंट्स और मैसेज मिल रहे हैं।

आसिफ इसके बाद बताते हैं कि ये बात सिर्फ ट्विटर तक नहीं सीमित थी बल्कि इसपर यूट्यूब पर वीडियो भी बनने लगे। उन्होंने बताया, ‘मेरे भाई को गो एयर के केबिन क्रू में काम करने वाली एक दोस्त ने एक वीडियो का लिंक भेजा था। वह जानना चाहती थी कि मेरा भाई क्या वीडियो में दिख रहे इस शख्स को जानता है क्योंकि उस प्रोफाइल में मेरा भाई भी फ्रेंड लिस्ट दिखाई दिया था। मुझे तब अंदाज़ा हुआ कि ये बात बहुत बढ़ गई है।’

आसिफ ने इस वीडियो के बारे में बताया, ‘इस वीडियो को बजिंग ट्रेंड्स ऑफिशियल नाम के चैनल ने लगाया था और उस शख्स ने मुझे इन ट्ववीट्स के लिए ज़िम्मेदार ठहराया और साथ ही वीडियो में मेरे कई सारे फोटो भी लगा दिए जो मेरे फेसबुक एकाउंट से लिए गए थे। साथ ही इस वीडियो में उस दूसरे एकाउंट की भी तस्वीर लगाईं थी। पर दोनों तस्वीरों की तुलना करने पर आसानी से पता लगता है कि ये मैं नहीं हूं।’

Dear All,It's been hell for me and my family since yesterday.I have been getting death threats, abusive hate…

Posted by Asif Khan on Friday, June 5, 2020

उन्होंने आगे लिखा, ‘हमने वीडियो के कमेंट सेक्शन में इसकी शिकायत की और चैनल के मालिक ने गलती स्वीकारते हुए इस वीडियो को हटा लिया.’ आसिफ इस मामले में पुलिस में शिकायत दर्ज करा चुके हैं और इंसाफ की उम्मीद करते हैं.

आसिफ बताया, ‘मैंने स्थानीय पुलिस स्टेशन और साइबर सेल में इसकी शिकायत दर्ज कराई है। मेरा कभी भी कोई क्रिमिनल रिकॉर्ड नहीं रहा है और न ही मैं कभी इस तरह की हरकत कर सकता हूं। मैं हर धर्म की इज्जत करता हूं और इस बात की पुष्टि वो हर शख्स कर सकता है जो मुझे जानता है। जो भी कमेंट उस एकाउंट से किए गए हैं वो न तो मेरे हैं और न ही मेरी कंपनी के।’

आसिफ इस मामले में निष्पक्षीय जांच की उम्मीद कर रहे हैं। वे कहते हैं, ‘मैं चाहता हूं कि इस पूरी घटना की जांच हो. इसने मेरे परिवार, मेरे बीमार पिता के सामने बड़ा संकट लेकर खड़ा कर दिया है। मैं न्यायिक व्यवस्था और अपनी कंपनी पर विश्वास रखता हूं और उम्मीद करता हूं कि वो इसे समझेंगे और इस मसले को हल करेंगे। मैं जांच में हर तरह की मदद देने के लिए तैयार हूं।’


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE