तमिलनाडु के चिड़ियाघर में चार शेर पाए गए डेल्टा वैरिएंट से संक्रमित

तमिलनाडु के वंडालूर स्थित अरिग्नार अन्ना जूलॉजिकल पार्क में चार CO’VID-19 संक्रमित शेरों के नमूनों की जांच में वह डेल्टा वैरिएंट से संक्रमित पाए गए है। चिड़ियाघर की ओर से शुक्रवार को जारी बयान में कहा गया कि संक्रमित शेरों से लिए गए नमूनों की जीनोम सीक्वेंसिंग से  उनमें डेल्टा स्वरूप मौजूद होने की पुष्टि हुई है।

चिड़ियाघर ने 24 मई को SARS CoV-2 से संक्रमित चार शेरों सहित पार्क में रखे गए 11 शेरों के नमूने और 29 मई को जांच के लिए राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशु रोग संस्थान (NIHSAD) भोपाल भेजे थे। 3 जून को संस्थान ने कहा कि 9 शेरों के नमूनों ने SARS CoV-2 से संक्रमित होने का पता चला है। इसके बाद जानवरों का इलाज शुरू कर दिया गया

इससे पहले चिड़ियाघर की नौ साल की एक शेरनी नीला और 12 साल के पथबनाथन नाम के शेर की इस महीने की शुरुआत में को’रोना से मौ’त हो गई थी।

अधिकारियों के मुताबिक संक्रमित तीन शेरों की हालत गंभीर बनी हुई है। चिड़ियाघर के पशु चिकित्सक और तमिलनाडु पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान विश्वविद्यालय के विशेषज्ञ पूरी कोशिश कर रहे हैं कि शेर जल्द से जल्द ठीक हो सकें।

इसी बीच श्रीलंका प्राणी उद्यान के अधिकारियों ने भी अपने यहाँ एक चिड़ियाघर में एक शेर के को’रोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद भारत से सहायता मांगी है। राष्ट्रीय प्राणी उद्यान के प्रमुख विक्रमसिंघे ने बताया, वह ‘थोर’ नाम के 11 वर्षीय शेर के इलाज के लिए भारत के केंद्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण के संपर्क में हैं। हम शेर को अगल रखकर उसका इलाज कर रहे हैं।