सिरसा में ‘खालिस्तानी’ झंडा फहराने के आरोप में चार गिरफ्तार

हरियाणा पुलिस ने सिरसा जिले के कालांवाली थाने के गांव सिंहपुरा में ’खालिस्तान जिंदाबाद’ का झंडा फहराकर शांति, भाईचारा और सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने की कोशिश करने के आरोप में चार बदमाशों को गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस जांच में सामने आया कि दोनों युवक दोस्त है और दोनों ने पंजाब के मोगा में स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर लगाए गए खालिस्तान के झंडों का वायरल वीडियो देखने के बाद गांव में झंडा फहराने की सोची थी।

इएचएसी गुरदीप सिंह ने बताया कि वह कालांवाली थाना में बतौर एसए के रूप में तैनात है। बीते दिवस वह सरकारी काम से गांव सिंहपुरा आया हुआ था। इस दौरान उसने देखा कि सिंहपुरा में बहमण रोड पर बने चौपाल के आगे बने शेड के ऊपर खालिस्तान जिंदाबाद का झंडा फहरा रहा था।

झंड़े से लोगों की धार्मिक भावनाएं भड़क सकती है। खालिस्तान का झंडा फहराने से विभिन्न धर्मों के लोगों की भावनाएं आहत हुए है व शांति भंग होने की संभावना है। इएचसी गुरदीप सिंह ने बताया कि हिंदू व सिख भाइचारे में द्वेष पैदा करने के लिए गांव के ही रुपिंद्र उर्फ रिम व युद्धवीर उर्फ जोनी ने झंडा फहराया।

आरोपी रूपिंदर ने 14 अगस्त को सोशल मीडिया पर एक वीडियो देखने के बाद इस घृणित कार्य में शामिल होने की बात कबूल की। आईपीसी की संबंधित धाराओं के तहत कालांवली पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज कर आगे की जांच जारी है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE