आतं’कियों के साथ रंगे हाथों धराए पूर्व डीएसपी दविंदर सिंह को मिली जमानत

दिल्ली पुलिस द्वारा समय से आरोप पत्र दायर नहीं कर पाने के कारण कश्मीर में हिजबूल के आतं’कियों के साथ रंगे हाथो धराए पूर्व डीएसपी दविंदर सिंह को जमानत मिल गई है।

दविंदर सिंह के वकील ने कहा, ‘दिल्ली पुलिस (Delhi Police) निलंबित डीएसपी दविंदर सिंह के खिलाफ चार्जशीट दाखिल नहीं कर पाई, जिसके कारण दिल्ली की अदालत से सिंह को जमानत मिल गई है।’ इससे पहले दिल्ली की एक अदालत ने पिछले महीने दविंदर सिंह की न्यायिक हिरासत 16 जून तक के लिए बढ़ा दी थी।

वकील एमएस खान ने कहा कि अदालत ने सिंह और मामले के एक अन्य आरोपी इरफान शफी मीर को जमानत दे दी। दोनों को दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ द्वारा दायर एक मामले में अदालत द्वारा राहत दी गई है। उन्हें एक लाख रुपये के निजी बांड और इतनी ही राशि के दो मुचलकों पर यह राहत दी गयी।

सिंह को इस साल की शुरूआत में हिज्बुल मुजाहिद्दीन के आतं’कवादियों को वाहन में ले जाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। आरोपी दविंदर सिंह अभी जेल में ही रहेंगे क्योकि वे एनआईए के केस में भी आरोपी हैं। आरोपी इरफान सैफी मीर भी फिलहाल जेल में रहेगा क्योंकि आरोपी इरफान सैफी मीर भी एनआईए केस में आरोपी है।

आरोपी इरफान सैफी मीर पर आरोप है कि हिजबुल कमांडर नवेद बाबू के लिए ग्राउंड पर लॉजिस्टिक और दूसरी चीजें मुहैया कराता था। वकील एम एम खान ने जमानत याचिका में कहा कि आरोपी व्यक्तियों को जमानत दी जानी चाहिए क्योंकि 90 दिन की निर्धारित अवधि में आरोपपत्र दाखिल नहीं किया गया है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE