असम में भाजपा नेता की कार में मिली ईवीएम, दुबारा मतदान के आदेश

गुरुवार रात असम के रताबारी निर्वाचन क्षेत्र में भाजपा विधायक कृष्णेंदु पॉल के परिवार के एक सदस्य की कार में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) मिली। चुनाव आयोग ने इस मामले में अपने चार अधिकारियों को निलंबित कर दिया।

चुनाव आयोग की और से एक रिपोर्ट में कहा गया है कि जांच करने पर, ईवीएम की सील “बिना किसी नुकसान के” के बराबर पाई गई।

चुनाव आयोग (EC) ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि जिस वाहन में ईवीएम को ले जाया जा रहा था, वह रात करीब 9 बजे नीलम बाजार इलाके के पास खराब हो गया था। लेकिन पोलिंग पार्टी ने दूसरे वाहन का इंतजार करने के बजाय, एक राहगीर से लिफ्ट ली। जिसका नंबर AS-10B-0022 है।

हालांकि, चुनाव आयोग का स्पष्टीकरण लोगों को रास नहीं आ रहा। युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अभियान प्रभारी श्रीवत्स ने इस बयान को “बांग्लादेशी स्वतंत्रता के लिए लड़ रहे मोदीजी से भी बड़ा झूठ” बताया।

एआईयूडीएफ के बदरुद्दीन अजमल, जो कांग्रेस के साथ गठबंधन में हैं, ने कहा कि ईवीएम चोरी करना भाजपा के अन्य कदमों “ध्रुवीकरण”, “वोट खरीदना”, “सीएए” सहित के बाद अंतिम उपाय था -।