Home राष्ट्रिय हत्यारों के महिमामंडन से घिरे जयंत सिन्हा, उठी मंत्रिमंडल से हटाए जाने...

हत्यारों के महिमामंडन से घिरे जयंत सिन्हा, उठी मंत्रिमंडल से हटाए जाने की मांग

598
SHARE

झारखंड के रामगढ़ में कथित गौरक्षा के नाम पर पीट-पीट कर की गई अलीमुद्दीन अंसारी के हत्यारों का महिमामंडन करने के मामले मे केन्द्रीय नागरिक उड्डयन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा नजर आ रहे है। उनको मंत्रिमंडल से हटाए जाने की मांग ज़ोर पकड़ रही है।

मुंबई पुलिस के पूर्व आयुक्त जूलियो रिबेरो, पूर्व सूचना आयुक्त वजाहत हबीबुल्ला और 41 अन्य पूर्व नौकरशाहों ने जयन्त सिन्हा को मंत्रिमंडल से हटाने की मांग की है। पूर्व नौकरशाहों ने बयान जारी कर कहा कि सिन्हा के इस कदम से ‘अल्पसंख्यकों की हत्या का लाइसेंस प्राप्त होने का’ संदेश जाता है।

बयान में कहा गया कि इससे इस तरह के आपराधिक मामलों के आरोपियों की ‘वित्तीय, कानूनी और राजनीतिक मदद’ को बढ़ावा मिलेगा। बता दे कि 29 जून को अलीमुद्दीन हत्याकांड में फास्ट ट्रैक कोर्ट की ओर से उम्रकैद की सजा पाए आठ लोगों को हाई कोर्ट से जमानत मिली थी। जिसके बाद सिन्हा आरोपियों को हजारीबाग की जय प्रकाश नारायण सेंट्रल जेल लेने पहुंचे थे।

इस दौरान जयंत ने हत्यारों को न केवल फूलमालाएं और मिठाई दीं, बल्कि ऊपरी अदालत में उनका केस लड़ने का भी आश्वासन दिया। इस मामले में उनके पिता और पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने भी उन्हे नालायक करार दिया। यशवंत सिन्हा कहा, “पहले मैं एक लायक बेटे का नालायक बाप था, लेकिन अब रोल उलट गया है। मैं अपने बेटे के कार्य का अनुमोदन नहीं करता, लेकिन मैं जानता हूं कि यह भी आगे दुरुपयोग का कारण बनेगा।’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...