दरगाह आला हजरत की अपील – रमज़ान में घरों में ही करें इबादत, लॉकडाउन का हो पालन

  • माह-ए-रमज़ान के लिए मरकजे अहले सुन्नत बरेली शरीफ से काज़ी-ए-हिन्दुस्तान का पैगाम
  • सडकों पर बेवजह कि भीड़ इक्कट्ठा न करें। सहरी व इफ्तार घरों में रहकर ही करें
  • नमाज़े पंज़ वक़्ता, नमाज़े जुम्मा और नमाज़े तरावीह चंद लोग मस्जिद में अदा करें

मुकद्दस माह-ए-रमज़ान के मद्देनजर खानकाहे ताजुश्शरीआ के सज्जादानशीन काज़ी-ए-हिन्दुस्तान मुफ्ती मोहम्मद असजद रज़ा खाँ कादरी ने बरेली समेत मुल्क भर के मुसलमानों से लॉकडाउन के पालन की अपील की। जिसमे घरों में ही सहरी-इफ्तार, नमाज और तरावीह का एहतमाम करने की बात कहीं गई।

दरगाह से जारी पैगाम में मुल्क भर के मुसलमानों और ईमामों से कहा गया है कि मुसलमान अपनी इज्जत की हिफाजत के साथ अपने फराईज़ व वाजिबात व दीगर इबादात बा हुस्न व खूबी अंजाम दें और इस सिलसिले में दी गई हिदायत पर अमल करें। हुकूमत-ए-हिन्दुस्तान की तरफ़ से जितने लोगों को मस्जिद मे नमाज़ की इजाज़त मिले वोह नमाज़े पंज वक़्ता-बा-जमाअत, नमाज़े जुम्मा और रमज़ान-ए-मुबारक में विशेष रुप से पढ़ी जाने वली नमाज़े तरावीह का एहतमाम (व्यवस्था) करें। बाक़ी लोग अपने-अपने घरों में अगर जमाअत मुम्किन हो तो जमाअत से वरना तन्हा-तन्हा पढें। क्योंकि तरावीह की जमाअत सुन्नत-ए-किफ़ाया है। जमाअत में इतने ही लोग रहे कि पुलिस-प्रशासन की तरफ से पकड़ या ऐतराज न हो।

तमाम मस्जिदों के जिम्मेदारो से भी अपील करते हुए कहा गया है कि कुछ जगहों पर लोगों ने मस्जिदों के इमाम व मोअज्जिन को बग़ैर तनख्वाह के छुट्टी दे दी है और कुछ जगहों पर तो हमेशा के लिए छुट्टी दे दी है, ऐसी नाजुक घड़ी में उनके साथ ऐसा सुलूक जायज़ नहीं, मस्जिदों के जिम्मेदारो को चाहिए कि उन्हें पूरी तनख्वाह दें और उनका पूरा ध्यान रखें।

उन्होने कहा, मुकद्दस माह-ए-रमज़ान के कुछ रोज़े लॉकडाउन में ही गुजरेंगे लिहाजा हालात वा माहौल को देखते हुए रमज़ान-ए-मुबराक में अपने घरों पर रहें कर ही अल्लाह की इबादत करें और लॉकडाउन का सख्ती से पालन करें। जिससे अपनी और दूसरें की जान की हिफाजत हो सके और साथ ही लॉकडाउन के नियामो का पालन करते हुए सोशल डिस्टेन्सिंग बनाए रखने का भी खास ध्यान रखा जाए। सडकों पर बेवजह कि भीड़ इक्कट्ठा न करें। सहरी व इफ्तार घरों में रहकर ही करें ।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE