Home राष्ट्रिय गो-हत्या मुस्लिमों के लिए नहीं बल्कि डॉलर के लिए हो रही: शंकराचार्य...

गो-हत्या मुस्लिमों के लिए नहीं बल्कि डॉलर के लिए हो रही: शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती

222
SHARE

केंद्र की मोदी सरकार पर अपने 4 साल पूरे कर लेने को लेकर ज्योतिषपीठ एवं द्वारका शारदापीठ के शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने गोहत्या सहित राम मंदिर मुद्दे पर कटाक्ष किया है।

उन्होंने नरेंद्र मोदी की सरकार को गोहत्या रोकने में नाकाम बताते हुए कहा कि देश हित में गो हत्या बंद होनी चाहिए। आमतौर पर देखा जाता है कि पुलिस पैसे लेकर गो हत्या करने वालों को छोड़ देती है। गो हत्या मुसलमानों के लिए नहीं हो रही है। डॉलर के लिए हो रही है। गोमाता सिर्फ हिंदुओं की ही नहीं है ये मुसलमानों की भी गोमाता है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

शंकराचार्य ने लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान मोदी द्वारा दिये बयान को भी कोड किया और कहा कि उन्होने बोला था, यूपीए सरकार के जमाने में भारत गो-मांस का निर्यात करता है। इससे मेरा ह्दय जल रहा है, आपका जलता है कि नहीं?’

इस बयान पर उन्होने कहा, हमें उम्मीद थी कि मोदी के प्रधानमंत्री बनते ही यह कलंक मिट जाएगा, लेकिन आजतक इस मामले में कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई बल्कि भाजपा सरकार में गो-मांस का निर्यात बढ़ा है।

राम मंदिर के मुद्दे पर उन्होने कहा, प्रारंभ से ही जनता को भ्रम में रखा गया है। मामला कोर्ट में था और कोर्ट से वहां स्टे लगा हुआ है। आप कोर्ट में तो कुछ कर नहीं रहे हैं और जनता से कहते हैं कि हमें वोट दो तो हम मंदिर बना देंगे। ये धोखा है। राम मंदिर के लिए इन्होंने शिलान्यास करवाया था, शिलान्यास गर्भगृह से दूर करवाया। जबकि जनता की मांग थी कि जहां भगवान राम का जन्म हुआ है, उसी जन्मभूमि पर राम मंदिर बनाया जाए।

उन्होने कहा, जब हम गए थे शिलान्यास करने तो इसी भाजपा समर्थित वीपी सिंह सरकार ने हमें कैद कर लिया था। हमने राम जन्मभूमि पुनर्निर्माण समिति बनाई और उसमें एक पक्ष बने। हमने सिद्ध कर दिया कि इस जन्मभूमि पर मस्जिद पहले भी कभी नहीं थी, आज भी नहीं है।

Loading...