मंदिर के बीच रास्ते बेहोश हुई महिला तो मुस्लिम सिपाही ने 6 किमी पीठ पर लादकर पहुंचाया अस्पताल

आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) में ऑन ड्यूटी एक मुस्लिम कॉन्स्टेबल ने मानवता की अनूठी मिसाल पेश करते हुए मंदिर के बीच रास्ते तबीयत खराब होने पर बेहोश हुई एक हिंदू महिला को अपने कंधे पर बैठाकर 6 किलोमीटर तक लादकर अस्पताल पहुंचाया।

जानकारी के अनुसार, 58 वर्षीय महिला मंगी नागेश्वरम्मा तिरुमला मंदिर की दो दिवसीय धार्मिक यात्रा पर निकली थीं। यात्रा पैदल कर रही थीं। बीच रास्ते में उनकी तबियत खराब हो गई। इस मंदिर की चढ़ाई 18 किलोमीटर है। महिला को हाई ब्लड प्रेशर की समस्या थी। उनकी सर्जरी हुई थी, जिस कारण उनके पैरों में भी दिक्कत थी।

इस दौराना ड्यूटी पर मौजूद कांस्टेबल शेख अरशद की नजर महिला पर पड़ी। उन्होने इस दुर्गम इलाके से महिला को अपनी पीठ पर लाद लिया और वह उन्हें हर 3-4 मिनट में एक ब्रेक लेकर और फल खिलाते हुए चलता रहा, ताकि उन्हें एनर्जी मिलती रहे।

6 किलोमीटर चलने के बाद उन्हें एक पूर्व विधायक की कार मिली। इस कार से महिला को अस्पताल पहुंचाया गया। पुलिसकर्मी द्वारा दिखाई गई कर्तव्य की भावना के लिए उनकी व्यापक रूप से सराहना की गई, जिसमें आंध्र प्रदेश पुलिस के शीर्ष अधिकारी गौतम सवांग भी शामिल रहे।