चीनी सेना ने हमारे जवानों को बनाया था बंधक, दो मेजर सहित 10 जवान रिहा

LAC पर चीनी सैनिकों के साथ झड़प मे भारत को अपने 20 सैनिकों की जान गंवानी पड़ी। इसी के साथ चीनी सेना ने हमारे कई जवानों को बंधक भी बना लिया। जिसमे से 10 बंधक बनाए गए सैनिकों को रिहा कर दिया। इनमें दो मेजर शामिल हैं।

जनसत्ता ने पीटीआई के हवाले से जानकारी देते हुए कहा कि मेजर-जनरल स्तर की वार्ता के दौरान ही भारतीय सेना और पीपुल्स लिबरेशन आर्मी में जवानों की रिहाई पर सहमति बनी। जिसके बाद जवानों की रिहाई हो पाई। हालांकि, इस पर अभी कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है।

सैन्य सूत्रों ने गुरुवार को बताया कि भारत के कुल 76 सैनिक चीनी हम’ले में घाय’ल हो गए थे। इनमें 18 गंभीर रूप से ज’ख्मी थे, जबकि 58 को हल्की चो’टें आई थीं। अधिकारियों ने कहा था कि 58 जवान अगले एक हफ्ते में ही ड्यूटी पर लौट आएंगे, जबकि गंभीर रूप से जख्मी सैनिकों के काम पर लौटने में दो हफ्ते तक लग सकते हैं। फिलहाल यह 18 जवान लेह के अस्पताल में भर्ती हैं, जहां इनका इलाज जारी है।

इसी बीच अमरीका ने गलवान घाटी में भारत और चीन के सैनिकों के बीच सोमवार रात हुई हिंसक झड़प पर पहली बार कोई प्रतिक्रिया दी है। अमरीका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने ट्वीट कर भारत के साथ संवेदना जताई है।

माइक पोम्पियो ने कहा,”हम चीन के साथ हाल में हुए संघर्ष की वजह से हुई मौतों के लिए भारत के लोगों के साथ गहरी संवेदना जताते हैं। हम इन सैनिकों के परिवारों, उनके आत्मीय जनों और समुदायों का स्मरण करेंगे। ऐसे समय जब वो शोक मना रहे हैं ।”


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE