कोरोना संकट के बीच चीन के केंद्रीय बैंक ने खरीदे एचडीएफसी के 1.75 करोड़ शेयर

कोरोना संकट के बीच चीन के केंद्रीय बैं  पीपुल्स बैंक ऑफ चाइना (पीबीओसी) ने भारत के निजी क्षेत्र के हाउसिंग फाइनेंस लेंडर (आवासीय वित्त ऋणदाता) एचडीएफसी लिमिटेड के 1.75 करोड़ शेयर खरीदे है।

शेयर बाजार के पास उपलब्ध आंकड़े के अनुसार मार्च महीने के अंत में पीपुल्स बैंक ऑफ चाइना की एचडीएफसी के 1,74,92,909 इक्विटी शेयर थे जो 1.01 प्रतिशत शेयर पूंजी के बराबर है। बता दें कि बीते दिनों से एचडीएफसी लिमिटेड के शेयर की कीमतों में भारी गिरावट है। फरवरी के पहले सप्ताह से यह गिरावट शुरू हुई थी जिसके बाद इसकी कीमत में 41 फीसदी तक की कमी देखी गई।

एक मीडिया रिपोर्ट में HDFC के वाइस चेयरमैन व CEO ​केकी मिस्त्री के हवाले से लिखा गया है कि इसके पहले भी पीपुल्स बैंक ऑफ चाइना ने HDFC में निवेश किया है। मार्च 2019 तक कंपनी में PBOC की 0.8 फीसदी स्टेक थी।मिस्त्री ने बताया कि अब जाकर HDFC में PBOC के शेयर्स 1 फीसदी के पार हुआ है, इसीलिए यह जानकारी सामने दी गई है। उन्होंने बताया कि PBOC पिछले एक साल से HDFC में अपना शेयर्स बढ़ा रहा है।

इस मामले में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने रविवार शाम को इस बारे में ट्वीट कर कहा कि देश में आर्थिक सुस्ती से भारतीय कॉरपारेट कंपनियां काफी कमजोर हुई हैं, इसी वजह से वे टेकओवर के लिए निशाना बन रही हैं। सरकार को इसकी इजाजत नहीं देनी चाहिए कि कोई विदेशी कंपनी इस संकट के दौर में किसी भारतीय कंपनी पर अधिकार हासिल करे।

वहीं स्वदेशी जागरण मंच के राष्ट्रीय सह-संयोजक अश्वनी महाजन ने भी ट्वीट कर पीएम नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से यह अनुरोध किया कि वे भारतीय संस्थाओं का स्वामित्व विदेशी हाथों में न जानें दें


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE