LAC पर चीन कर रहा सै’न्‍य जमावड़ा, झड़प वाली जगह पर किया सड़क निर्माण

15 जून को भारत और चीन के बीच हुए खू’नी संघ’र्ष के बाद सीमा पर जारी तनाव होता कम नहीं दिख रहा है। दरअसल, चीन एलएसी पर लगातार सैन्‍य क्षमता बढ़ा रहा है। चीन फिंगर क्षेत्र (Finger Area) में भी लगातार सैन्‍य शक्ति बनाए हुए है।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक चीनी सेना पूर्वी लद्दाख के एलएसी क्षेत्र पर 4 मई से सैन्‍य क्षमता बढ़ा रही है। उसने उस क्षेत्र में 10 हजार से अधिक सैनिकों और भारी तोपों समेत अन्‍य सैन्‍य साजोसामान वहां तैनात किए। पैंगोंग सो लेक समेत फिंगर एरिया में चीनी सेना की ओर से लगातार बड़ी सैन्‍य गतिविधियां जारी हैं। इसमें सैनिकों की तैनाती और निर्माण कार्य शामिल है।

भारत फिंगर 8 तक अपना दावा करता है। लेकिन हाल ही में हुए गतिरोध में चीनी सेना भारतीय सेना के गश्‍ती दल को फिंगर 4 से आगे जाने पर रोक रही है। वहीं अमेरिका की स्पेस टेक्नोलॉजी ने गलवान घाटी (Galwan valley) की नई सैटेलाइट तस्वीरें जारी की हैं। जिसमे साफ दिख रहा है कि झड़प वाली जगह पर चीन ने निर्माण किया है।

गलवान घाटी की ये तस्वीरें 22 जून की हैं। सैटेलाइट तस्वीरों में LAC और पेट्रोल पॉइंट 14 को दिखाया गया है। सैटेलाइट तस्वीरों में साफ दिखाई दे रहा है कि गलवान घाटी में झड़प वाली जगह के पास चीन ने सड़क निर्माण किया है।तस्वीरों में चीनी सेना की टैंक कंपनी भी दिखाई दे रही है। कोग्का दर्रे के पास चीनी सेना का बेस दिखाई दे रहा है। गलवान घाटी में चीनी सेना का बेस भी तस्वीरों में दिखाई दे रहा है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE