राफेल से बोखलाए चीन ने सीमा पर तैनात किए परमाणु बॉम्बर प्लेन?

राफेल लड़ाकू विमानों के आने के तुरंत बाद ही चीन ने LAC पर जारी विवाद के बीच लद्दाख रेंज में परमाणु बॉम्बर लगा दिए हैं। ओपन इंटेलिजेंस सोर्स Detresfa की सैटलाइट इमेज में ये खुलासा हुआ है।

सीमा पर चीन की PLA की एयरफोर्स काशगर एयरपोर्ट पर तैनात है। इसके साथ ही एयरबेस पर रणनीतिक बॉम्बर और दूसरे असेट भी तैनात हैं। सैटलाइट तस्वीरों में दिखाया गया है कि इस बेस पर 6 शियान H-6 बॉम्बर हैं जिनमें से दो 2 पेलोड के साथ हैं। इनके अलावा 12 शियान Jh-7 फाइटर बॉम्बर हैं जिनमें से दो पर पेलोड हैं।

वहीं, 4 शेनयान्ग J11/16 फाइटर प्लेन भी हैं जिनकी रेंज 3530 किलोमीटर है। ये बॉम्बर परमाणु हथियार ले जाने की क्षमता रखते हैं। लद्दाख से इस बेस की दूरी करीब 600 किमी है जबकि H-6 की रेंज 6000 किमी। चीन ने H-6J और H-6G विमानों के साथ साउथ चाइना सी में भी ड्रिल की है।

इस क्षेत्र में पहले से कायम तनाव के बीच चीन ने जिन जहाजों के साथ ड्रिल की है, वे H-6J सात YJ-12 सुपरसोनिक ऐंटी-शिप क्रूज मिसाइल ले जा सकते हैं जिनमें से 6 इसके पंखों के नीचे के लग सकते हैं। वहीं शेनयान्ग 2500 किमी प्रतिं घंटे की अधिकतम रफ्तार से उड़ान भर सकता है। वर्तमान समय में चीन के पास इस प्लेन के 250 से ज्यादा यूनिट मौजूद हैं।

इससे पहले खबर थी कि चीन ने भारत से सटी सीमा के पास अपने कम से कम 8 एयरबेस या हेलीपैड्स को ऐक्टिव कर दिया, जहां से यह हर स्थिति से निपटने की तैयारी रख सकता है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE