मास्क न पहनने पर चालान काटा तो बदले में बिजलीकर्मियों ने थाने की लाइट काटी

कोरोना महामारी के बढ़ते प्रसार के बीच मास्क न पहनने पर पुलिस की और से कड़ी कार्रवाई की जा रही है। ऐसे में उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग में पुलिस को बिजलीकर्मियों का मास्क न पहनने पर चालान काटना महंगा साबित हुआ। दरअसल, बिजलीकर्मियों ने बदले में थाने की ही लाइट काट दी।

न्यूज़ 18 के अनुसार, कोतवाली रुद्रप्रयाग के सब-इंस्पेक्टर मनसूर अली और सब-इंस्पेक्टर विजय प्रताप राही, कांस्टेबल लखपत सिंह केदारनाथ तिराहे पर चेकिंग कर रहे थे। इस दौरान बेलणी पुल की तरफ से एक मोटरसाइकिल आती दिखाई दी, जिस पर 2 व्यक्ति सवार थे और दोनों ने ही मास्क नहीं पहना था।

पुलिसकर्मियों के रोकने पर तो उन्होंने अपने नाम महावीर सिंह और सुरेंद्र सिंह लिंगवाल बताए और पता विद्युत वितरण खंड बेलणी रुद्रप्रयाग का ऑफ़िस बताया। दोनों व्यक्तियों को मास्क न पहनने पर महामारी अधिनियम में 100 रुपए जुर्माना लगाया गया।

महावीर सिंह ने चालान जमा कर दिया, लेकिन सुरेंद्र सिंह ने नहीं किया। इस दौरान दोनों ने पुलिसकर्मियों के साथ गाली-गलौज और धक्का-मुक्की भी की। फिर वह वहां से अपनी मोटरसाइकिल से चले गए। इसके बाद इन दोनों ने कोतवाली और ज़िला जज आवास की बिजली काट दी।

इस बारे में पता चलने पर एसपी रुद्रप्रयाग ने बिजली विभाग के एमडी से शिकायत की, तब जाकर कोतवाली की बिजली दोबारा जोड़ी गई। इसके बाद बिजली विभाग ने दोनों कर्मचारियों को निलंबित कर दिया है।  पुलिस ने भी दोनोंं कर्मचारियों पर थाना कोतवाली में मुकदमा दर्ज कर लिया।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE