Home राष्ट्रिय किसानों की खुदखुशी को बताया था पब्लिसिटी, केंद्रीय कृष‍ि मंत्री पर मुकदमा...

किसानों की खुदखुशी को बताया था पब्लिसिटी, केंद्रीय कृष‍ि मंत्री पर मुकदमा दर्ज

195
SHARE

मध्यप्रदेश के मंदसौर में पिछले साल किसानों पर गोलीबारी के विरोध में शुरू हुए किसान आंदोलन को केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह को पब्लिसिटी स्टंट बताना महंगा पड़ सकता है.

दरअसल, समाजिक कार्यकर्ता तमन्ना हाशमी ने बिहार के मुजफ्फरपुर में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट कोर्ट में राधामोहन सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है. बता दें कि कृषि मंत्री ने शनिवार (2 जून) को ये विवादित बयान दिया था.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

कृषि मंत्री ने कहा था, ‘मीडिया में आने के लिए असामान्य कार्य करना होता है. देश में 12-14 करोड़ किसान हैं. हमेशा से ऐसे संगठन रहेंगे जिनमें कुछ हजार लोग होंगे.’ कृषि मंत्री से जब पत्रकारों ने सवाल पूछा- ‘देश में किसान आत्महत्या कर रहे हैं और मध्यप्रदेश में किसानों का बड़ा आंदोलन चल रहा है.’

इसके जवाब में कृषि मत्री ने कहा, ऐसा नहीं है कि हमारी सरकार किसानों के लिए कुछ नहीं किया. मध्यप्रदेश में भी बहुत काम हुए हैं, जहां तक प्रदर्शन की बात है तो कई बार मीडिया में पब्लिसिटी के लिए भी कुछ किसान तरह-तरह के उपक्रम करते रहते हैं.”

कृषि मत्री का बयान मंदसौर से किसानों के ‘गांव बंद’ के  ऐलान के संदर्भ में आया था. किसानों ने एक जून से 10 जून तक किसान अपने उत्पादन (फल, सब्जी, दूध और अनाज) शहर नहीं भेजने की घोषणा की हुई है. मंदसौर गोलीकांड के एक साल पूरे होने पर किसान संगठनों द्वारा गांव बंद का एलान हुआ.

Loading...